- Advertisement -

Bihar व UP उपचुनाव नतीजों में BJP की करारी हार, मायावती से मिले अखिलेश

0

- Advertisement -

नई दिल्ली। यूपी व बिहार में हुए उपचुनावों के बाद बुधवार को मतों की गणना हुई। बिहार में बीजेपी के हिस्से में सिर्फ भभुआ विधानसभा सीट ही आ सकी है। जहां, बीजेपी के दिवंगत विधायक आनंद भूषण पांडेय की पत्नी रिंकी रानी को विजयी घोषित किया गया है। बिहार की एक लोकसभा और दो विधानसभा में से बीजेपी महज एक सीट ही सीट जीत सकी है। बीजेपी को अररिया लोकसभा सीट में करारी हार का मुंह देखना पड़ा है। यूपी के फूलपुर में सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल ने बीजेपी के कौशलेंद्र पटेल को 59613 वोटों से हराया। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ की सीट गोरखपुर पर भी सपा प्रत्याशी प्रवीण निषाद ने बीजेपी के उपेंद्र पटेल को हराया। बिहार के जहानाबाद विधानसभा सीट पर राजद ने जीत दर्ज की।

अखिलेश यादव ने किया धन्यावाद

नतीजों के बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि दोनों लोकसभा क्षेत्र की जनता का धन्यवाद देना चाहता हूं।उन्होंने कहा कि,  सबसे पहले बसपा प्रमुख मायावती जी का भी धन्यवाद देता हूं। उनकी पार्टी के समर्थन के कारण ही इन चुनावों में जीत हासिल हुई है। उनके अलावा जितनी भी पार्टियों ने समर्थन किया है उनका भी शुक्रिया करता हूं। इसके बाद अखिलेश यादव बसपा सुप्रीमो मायावती के घर पहुंचे जहां तकरीबन एक घंटे से भी ज्यादा वक्त तक दोनों के बीच बातचीत हुई।

यूपी की फूलपुर सीट सपा की झोली में

यूपी के गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों की तो इन दोनों ही जगहों पर समाजवादी पार्टी सुबह से ही बढ़त बनाए हुए थी। बता दें कि गोरखपुर में सपा प्रत्याशी प्रवीण निषाद 2, 12, 061 वोटों के साथ निर्णायक बढ़त बनाए हुए हैं। इसके साथ ही फूलपुर लोकसभा सीट सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल ने जीत ली है।

बता दें कि, शिवसेना नेता संजय राउत का बीजेपी पर हमला, कहा- मैं ये नहीं मानता की एसपी-बीएसपी गठबंधन ने काम किया, मैं मानता हूं कि प्रभु श्रीराम की सबसे ज्यादा निंदा करने वाले एसपी के नेता के लिए आपने जिस दिन रेड कार्पेट डाला उसी दिन प्रभु श्रीराम भी आपके खिलाफ हो गये। वहीं बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने अररिया लोकसभा और जहानाबाद में बढ़त पर खुशी जताते हुए ट्वीट किया आपने ‘लालू’ को नहीं एक विचार को क़ैद किया है। यही विचार और धारा आपके अहंकार को चूर-चूर करेगी। हमने जनता की अदालत में बड़ी विनम्रता से अपनी बात रखी। जनता के प्यार ने विनम्रता और शक्ति प्रदान की है बाक़ी लोकतंत्र में जीत-हार चलती रहती है। इसके साथ ही पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने ट्वीट कर मायावती व अखिलेश यादव को बढ़त व जीत की मुबारकबाद दी। वहीं दूसरी ओर उपचुनावों में पिछड़ने पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी पार्टी मुख्यालय पहुंचे।

- Advertisement -

%d bloggers like this: