पश्चिमी विक्षोभ होने लगा सक्रिय ; ऊंचाई वाले कुछेक इलाकों में बारिश-बर्फबारी की संभावना

0

प्रदेश में बढ़ने वाला है ठंड का प्रकोप

शिमला। आखिर करीब दो माह के सूखे के बाद हिमाचल में मेघ बरसने की उम्मीद बंधी है। हिमाचल में अब मौसम का रुख बदलने लगा है। राज्य में हलके बादल छाने लगे हैं और इससे पहाड़ों की रानी शिमला समेत ऊंचाई वाले इलाकों में ठंड का प्रकोप बढ़ना शुरू हो गया है। वहीं, पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता हो रहा है और इसका प्रभाव सोमवार से राज्य में दिखने लगेगा। मौसम विभाग के मुताबिक सोमवार से राज्य में ऊंचाई वाले कुछेक इलाकों में बारिश व बर्फबारी की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ का यह रुख अगले तीन-चार दिन तक रहने वाला है। मंगलवार से पश्चिमी विक्षोभ का असर मध्यम उंचाई और कम ऊंचाई वाले इलाकों तक पहुंचेगा और इस दौरान बारिश की संभावना है। ऐसे में राज्य में ठंड का प्रकोप और बढ़ने वाला है।

किसान-बागवान बेसब्री से कर रहे बारिश का इंतजार

राज्य में पिछले काफी लंबे समय से मौसम शुष्क चल रहा है। किसान और बागवान बड़ी बेसब्री से बारिश का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन करीब दो माह हो चुके हैं और बारिश नहीं हुई है। बारिश न होने से किसान बागवान भी निराश हैं। बारिश न होने से जहां किसान बिजाई नहीं कर पा रहे, वहीं बागवान सूखे के चलते कुछ नहीं कर पा रहे। उधर, बारिश न होने से हवा में धूल के कण हैं और इससे लोग वायरल की चपेट में आ रहे हैं और अस्पतालों में मौसम की मार से परेशान लोग पहुंच रहे हैं। चिकित्सक भी वायरल होने की संभावना जता रहे हैं और वे ऐसे मौसम में सावधानी की सलाह दे रहे हैं।

मौसम विभाग के स्थानीय केंद्र निदेशक मनमोहन सिंह के मुताबिक राज्य की तरफ पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है और इसके प्रभाव से आने वाले दिनों में राज्य में कुछेक स्थानों पर मौसम खराब रह सकता है। उनका कहना था कि पश्चिमी विक्षोभ के असर से कुछेक स्थानों पर बारिश और अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी की भी संभावना है।

You might also like More from author

Leave A Reply