हंसी तो पेन किलर है जी, दिल खोल कर हंसिए …

0
किसी बात पर हंसना, जोर से ठहाके लगाना एक समय बेहद सामान्य सी बात थी,पर जैसे -जैसे हमारी व्यस्तताएं बढ़ती चली गईं  हम अपनी इस स्वाभाविक आदत से दूर होते चले गए। आपको शायद पता न हो लेकिन हंसना न सिर्फ आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है बल्कि यह आपको एक बेहतर लुक भी देता है। हंसना आपको एक अच्छी फीलिंग देता है और आपके आसपास वालों को भी खुश रखता है। यह तनाव से राहत पाने का एक शानदार तरीका है पर जैसा कि जाहिर है आप अकेले नहीं हंस सकते इसलिए आपके आसपास अपने जैसे दोस्तों का होना जरूरी है। मान लीजिए कि आप महसूस करने लगे हैं कि धीरे-धीरे नींद के घंटे कम हो रहे हैंऔर आप अनिद्रा का शिकार होते जा रहे हैं तो नींद के पैटर्न को सही करने में हंसना मदद करता है।
अवसाद से पीड़ित लोगों के लिए यह सबसे अच्छी दवा है और यह थेरेपी बुजुर्ग लोगों में अवसाद को कम कर देती है। हंसने से आपका इम्यून सिस्टम ठीक होता है और लगतार नियमित रूप से हंसने और प्रसन्न रहने से एक मजबूत रक्षा प्रणाली बन जाती है जो आपको जाने कितनी बीमारियों से बचाती है। सबसे ज्यादा रोचक यह है कि हंसी एक प्रकृतिक दर्द निवारक के रूप में काम करती है।ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक अध्ययन ने यह सिद्ध किया है  कि जो लोग बहुत हंसते हैं वे उनके मुकाबले दस प्रतिशत अधिक दर्द का सामना कर सकते हैं जो नहीं हंसते। ऐसे लोगों का हाई ब्लडप्रेशर भी नियंत्रित रहता है। इतना ही नहीं हंसने वालों के लिए दिल के दौरे के आसार भी कम होते हैं। हंसना हमारे शरीर की एक स्वाभाविक प्रक्रिया है  जो शरीर के ग्लूकोज पर नियंत्रण  करने वाली प्रणाली पर सीधा प्रभाव डालती है। जाहिर है इससे मधुमेह भी नियंत्रण में रहता है।
आपकी हंसी आपको युवा बनाए रखती है क्योंकि हंसने-मुस्कुराने से चेहरे की 15 मांसपेशियां एक साथ काम करती हैं, जिससे चेहरे के चारों ओर रक्त प्रवाह बढ़ जाता है और आप युवा तथा स्वस्थ दिखते हैं। यह शरीर के साथ भावनात्मक स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाता है । इससे ऊर्जा बढ़ती है ,सजगता तथा रचनात्मकता तथा स्मरण शक्ति में सुधार होता है इसलिए हंसी को दैनिक दिनचर्या में शामिल करें किसी भी मजेदार बात पर हंसने को तैयार रहें क्योंकि हंसना एक स्वाभाविक व्यायाम है यह एक तरह से कार्डियो एक्सरसाइज है। दस मिनट का जोरदार हंसी से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है मसल्स भी रिलैक्स करती हैं। हां, अकेले हंसने से अच्छा है कि आप समूह में हंसें…यह ऐसा पेन किलर है जो आपको बीमार नहीं होने देता। तो दिल खोल कर हंसिए क्योंकि इसीलिए 10 जनवरी का दिन विश्व हंसी दिवस घोषित किया गया है।

You might also like More from author

Leave A Reply