Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

ओले या आफत के गोलेः सेब, प्लम और नाशपाती मटियामेट

ओले या आफत के गोलेः  सेब, प्लम और नाशपाती मटियामेट

- Advertisement -

कुल्लू-लाहौल में किसानों-बागवानों पर आसमानी आफत का कहर

कुल्लू। मई महीने में वर्ष ताबड़तोड़ वर्ष रहे मेघ ने किसानों के साथ-साथ बागवानों की कमर भी तोड़ कर रख दी है। कुल्लू और लाहौल में ओलावृष्टि से भारी नुकसान की खबर है। जिला कुल्लू की जल्लूग्रां व शाट पंचायत में भारी ओलावृष्टि ने खूब तबाही मचाई है। यहां कई गांवों में फसलें तबाह कहो गई है। सेब, नाशपाती, प्लम के अलावा मटर, गोभी, फ्रास्बीन सहित  दूसरी नकदी फसलों को खासा नुकसान पहुंचा है, जिससे किसान व बागवान सड़कों पर आ गए हैं। सेब के सभी बगीचों में ओलों ने कुछ भी नहीं छोड़ा है। फलों के साथ पत्ते भी भारी ओलावृष्टि से झड़ गए हैं। यही नहीं कई जगह तो सेब के पेड़ों के भी छिलके तक निकाल दिए हैं।

यह भी पढ़ें..तेज तूफान व बारिश का कहर, पेड़ उखड़े, छतें उड़ी

जल्लूग्रां पंचायत की प्रधान शक्ति शर्मा ने बताया कि रविवार का दिन क्षेत्र के लोगों के लिए पर भारी पड़ा है। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र के लोगों की आर्थिकी सेब , प्लम, नाशपाती पर ही आश्रित है, ओलावृष्टि ने उसे भी तबाह कर दिया है।


वहीं भावानगर में पूर्व बीजेपी विधायक तेजवंत नेगी ने रविवार को निचार में ओलावृष्टि से हुए नुकसान का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कई सेब बागवानों से मुलाकत की। उन्होंने ओलावृष्टि क्षेत्र में कई बगीचों में जाकर फसल के नुकसान का जायजा लिया। गौरतलब है कि क्षेत्र में ओलों ने सेब सहित अन्य फसलों को पूरी तरह तहस-नहस कर दिया है। उन्होंने कहा कि शनिवार देर सायं निचार, कंडार, नाथपा और बेई सहित अन्य कई गांवों में ओलों ने सेब सहित अन्य फसलों को तबाह कर दिया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है