Expand

जेपी कर रही हाईकोर्ट के आदेशों की अवहेलना

जेपी कर रही हाईकोर्ट के आदेशों की अवहेलना

- Advertisement -

बिलासपुर। जेपी उद्योग प्रदेश हाईकोर्ट के आदेशों की अवहेलना कर रहा है क्योंकि हाईकोर्ट ने जेपी उद्योग को आदेश दिए थे कि ट्रक ऑपरेटरों को नियमित रूप से भाड़े का भुगतान किया जाए। बावजूद इसके अब भी 10 करोड़ रुपए कंपनी के पास ऑपरेटरों के बकाया हैं। कंपनी की इस मनमानी से सैकड़ों ट्रक ऑपरेटर तंगहाली से गुजर बसर करने को मजबूर हैं। ट्रकों की समय पर किश्तें अदा नहीं करने के चलते निजी फाइनेंसर और बैंक कई लोगों के ट्रकों को उठाकर ले गए हैं।

  • meetingतीनों परिवहन सभाओं ने लगाया आरोप
  • कंपनी की मनमानी से ट्रक ऑपरेटर खस्ताहाल
  • किश्तें अदा नहीं करने पर बैंक, फाइनेंसर ले गए ट्रक
  • पेट्रोल पंप भी बंद होने की कगार पर
  • जल्द भाड़ा न मिला तो बंद करेंगे जेपी से ढुलाई

उन्होंने कहा कि जेपी के पास खारसी परिवहन सभा का छह करोड़, कोहिनूर परिवहन सभा का लगभग 2 करोड़ और भूतपूर्व सैनिक ऋषि मार्कंडेय परिवहन सभा का भी लगभग 2 करोड़ रुपए बकाया है, जो कि जेपी ने नहीं चुकाया है।
उन्होंने कहा कि पिछले दो साल से नियमित भाड़ा न देने की वजह से सभी ऑपरेटरों की हालत बेहद खराब हो गई है। भाड़ा न मिलने की वजह से इस क्षेत्र के सभी पेट्रोल पंप बंद होने की कगार पर पहुंच चुके हैं। क्योंकि, पेट्रोल पम्प मालिकों का ट्रक ऑपेटरों के पास करोड़ों रुपए बकाया उधार है। ट्रक भाड़ा न मिलने की वजह से इस क्षेत्र के होटल, मैकेनिक, टायर पंक्चर, इलेक्ट्रिशियन स्पेयर पार्ट्स व आम कारोबारियों का कारोबार बंद होने की कगार पर हैं।

इस महत्वपूर्ण बैठक में कोहिनूर सभा के प्रधान प्रेम सिंह ठाकुर, उप प्रधान बबलू शर्मा, महासचिव मान सिंह ठाकुर, भूतपूर्व सैनिक परिवहन सभा के प्रधान कैप्टन सुरेंद्र कुमार, महासचिव जोगिंद्र पाल ठाकुर, खारसी सभा के प्रधान महेंद्र सिंह ठाकुर, चेयरमैन रोशन लाल फौजी, उपप्रधान परमानंद ठाकुर, सदस्य धर्म पाल ठाकुर, परस राम ठाकुर, हेम राज शर्मा, हंस राज शर्मा व जीत राम शर्मा आदि भी उपस्थित रहे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है