Expand

थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मियों को कैद

थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मियों को कैद

- Advertisement -

चंबा। सीजेएम चंबा राजेंद्र कुमार की अदालत ने थाने में आरोपी से हिरासत में लेकर पूछताछ के दौरान मारपीट करने पर भरमौर थाना के तत्कालीन प्रभारी सहित पांच पुलिस कर्मियों को एक साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। उन्हें पांच हजार रुपये जुर्माना भी किया गया है। जुर्माना न भरने पर सभी को तीन माह की अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी।

  • prisonवर्ष 2006 में कोर्ट के माध्यम से दर्ज हुआ था केस
  • आरोपी कर्मियों ने  सीटू नेता की हिरासत में की थी मारपीट

मामला वर्ष 2006 का है, जब कश्मीर सिंह पुत्र गरजा राम ने कोर्ट के माध्यम से पुलिस कर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया था। इसमें आरोप था कि चमेरा हाइड्रो प्रोजेक्ट में सितंबर 2006 को कर्मचारी हड़ताल कर रहे थे, जिस दौरान प्रोजेक्ट की शिकायत पर पुलिस ने पांच सीटू कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। साथ ही सीटू नेता कश्मीर सिंह को हिरासत में लिया गया था। हिरासत के दौरान पुलिस ने उसके साथ मारपीट की थी। 22 अगस्त 2006 को कश्मीर सिंह का मेडिकल करवाया गया उस दौरान शरीर पर मारपीट के कोई निशान नहीं थे। लेकिन जब 24 अगस्त को दोबारा मेडिकल करवाया गया तो कश्मीर सिंह के शरीर पर चोट के काफी निशान मिले। इसके बाद कोर्ट ने शिकायत के आधार पर तत्काल एसपी चंबा उपेंद्र ठाकुर को भरमौर थाना प्रभारी प्रताप सिंह, एएसआई गैहरा अनूप कटोच, हैड कांस्टेबल गैहरा सुरेंद्र दत्त, कांस्टेबल योगेंद्र योगू व न्यूटर तथा प्रोजेक्ट के कर्मचारी प्रमोद के खिलाफ मामला दर्ज करने को कहा था, जिसके बाद से मामला कोर्ट में विचारधीन था। इस पर अदालत ने कार्रवाई करते हुए उक्त सभी पुलिसकर्मियों को एक साल कैद व जुर्माने की सजा सुनाई है।

hammer-706117लुधियाना के चरस तस्कर को पांच साल कैद

चंबा। जिले की विशेष अदालत के न्यायाधीश पारस डोगर ने एक व्यक्ति को चरस रखने के जुर्म में पांच साल का कारावास व 25 हजार जुर्माने की सजा सुनाई है। मामले की पैरवी करते हुए उप जिला न्यायवादी कंवर उदय सिंह ने बताया कि 18 अक्टूबर 2014 को रात लगभग 12 बजे बनीखेत पुलिस चौकी के दल ने एएसआई मदन लाल की अगुवाई में टोल टैक्स बैरियर बनीखेत के निकट नाका लगा रखा था। इस दौरान चरणजीत सिंह पुत्र गोविन्द राज निवासी मकान नंबर एफ-63, गली नंबर 4, वार्ड नंबर 2, काली सड़क, न्यू आनन्द विहार लुधियाना (पंजाब) वहां से पैदल निकला और पुलिस पार्टी को देखकर घबरा गया। उसने वहां से भागने का प्रयास भी किया। पुलिस ने उसे पकड़कर जब उसकी तलाशी ली तो उससे 755 ग्राम चरस बरामद हुई। इस मामले में माननीय न्यायालय ने उसे सजा सुनाई। यदि वह जुर्माना अदा नहीं करता है तो उसे 6 माह का अतिरिक्त करावास भुगतना होगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है