Expand

‘नाच न जाने आंगन टेढ़ा’

‘नाच न जाने आंगन टेढ़ा’

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल में कांग्रेस सरकार विकास कार्य करवाने में पूरी तरह असफल रही है और अपनी कमजोरियों और असफलताओं का ठीकरा केन्द्र सरकार के सिर फोड़ती रही है । कुछ कांग्रेस नेता तो अर्थशास्त्र को समझे बिना ऐसी शिकायतें करते रहते हैं कि केन्द्र से धन कम मिल रहा है, जबकि तथ्य यह है कि मोदी सरकार के कारण एक अप्रैल 2015 से लेकर पांच वर्ष तक 75281 करोड़ से ज्यादा धनराशि इन पांच वर्षों में हिमाचल प्रदेश को मिलेगी। जबकि इसके मुकाबले यूपीए सरकार में हिमाचल प्रदेश को मात्र 21 हजार करोड़ रुपया ही पांच वर्ष में मिला था। यह बात पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने जारी प्रेस बयान में कही।

  • धूमल बोले, अपनी नकामी का ठीकरा केंद्र पर फोड़ रही प्रदेश सरकार
  • कांग्रेस के लोगों को केन्द्र सरकार का धन्यवाद करना चाहिए न कि निरर्थक बयानवाजी

govtउन्होंने कहा कि   राजस्व घाटे के अनुदान के रूप में हिमाचल प्रदेश को 40625 करोड़ रुपये मिलेंगे। केन्द्रीय करों के हिस्से के तौर पर 29224 करोड़ रुपया मिलेगा, पंचायतों और स्थानीय निकायों के लिए 1790 करोड़, प्राकृतिक आपदा प्रबन्धन के लिए 1304 करोड़ अनुदान सहायता के तौर पर 2204 करोड़ और न्यायपालिका के लिए 98 करोड़ रुपये से ज्यादा की धनराशि केन्द्र उपलब्ध करवाएगा।  एक और रुचिकर आंकड़ा यह है कि केन्द्र की कांग्रेस सरकार के पांच वर्ष में हिमाचल प्रदेश को मात्र 7889 करोड़ मिला था, जबकि मोदी सरकार द्वारा वर्ष 2015-16 में ही 8009 करोड़ रुपये हिमाचल को दिया जा चुका है, जोकि कांग्रेस सरकार के पूरे पांच साल में दी गई राशि के मुकाबले 120 करोड़ रुपये ज्यादा हैं ।

धूमल ने कहा कि आजादी के पश्चात पहली बार नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र की एनडीए सरकार ने प्रदेशों के हिस्से को 32 प्रतिशत से बढ़ाकर 42 प्रतिशत किया है, जोकि 10 प्रतिशत ज्यादा है। अतः कांग्रेस के लोगों को केन्द्र सरकार का धन्यवाद करना चाहिए न कि निरर्थक बयानवाजी। केन्द्र द्वारा हिमाचल के विकास के लिए जो स्वर्णिम अवसर मोदी सरकार ने दिया है, उसका लाभ उठाकर हिमाचल प्रदेश का समग्र विकास करवाना चाहिए ।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है