Expand

नोटों की नसबंदीः Helicopter से नोट पहुंचाएंगे वीरभद्र

नोटों की नसबंदीः Helicopter से नोट पहुंचाएंगे वीरभद्र

- Advertisement -

शिमला/ दिल्ली। नोटों की नसबंदी पर राज्य सरकारें भी अपनी-अपनी डफली बजाने में लगी हुई हैं।

  • क तरफ यहां हिमाचल के सीएम वीरभद्र सिंह ने सबसे पहले नोटों की नसबंदी को बेहतरीन कदम बताया था,वहीं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस नसबंदी के खिलाफ विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर प्रस्ताव पारित करवा लिया है। यानी इस मामले में भी हर कोई राजनीतिक दांवपेंच खेलने में पीछे नहीं है।

cm-1खैर हिमाचल के सीएम वीरभद्र सिंह ने तो आज एक बेहतरीन बात कही है, उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दूरदराज व जनजातीय क्षेत्रों में स्थित बैंकों में पैसे की उपलब्धता सुनिश्चित करने में पूरा सहयोग प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि अगर आवश्यक हुआ तो इन क्षेत्रों में स्थित बैंकों में हेलिकॉप्टर की सेवाएं प्रदान कर नोट पहुंचाए जाएंगे।

सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा 500 रुपये तथा 1000 रुपये की मुद्रा के प्रचलन को बंद करने के निर्णय से प्रदेश के लोगों को किसी प्रकार की समस्या न होए इसलिए राज्य सरकार प्रदेश में स्थित बैंकों में सामान्य कारोबार सुनिश्चित बनाने के लिए सुरक्षा और अन्य आवश्यक सुविधाएं प्रदान कर रही है।

केजरीवाल ने विस में विरोध का प्रस्ताव करवाया पारित

दूसरी तरफ पीएम नरेंद्र मोदी के कट्टर विरोधी माने जाने वाले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को विधानसभा के विशेष सत्र में नोटों की नसबंदी के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया।

  • प्रस्ताव में केजरीवाल ने राष्ट्रपति से अनुरोध किया है कि वह केंद्र को डिमोनेटाइजेशन (विमुद्रीकरण) स्कीम को वापस लेने का निर्देश दें। kejriwal

केजरीवाल शुरुआत से ही नोटों की नसबंदी के खिलाफ रहे हैं। वह पीएम मोदी पर पेटीएम जैसी कंपनियों को नोटबंदी कर के फायदा पहुंचाने का भी आरोप लगा चुके हैं। इससे पहले सोमवार को दिल्ली कैबिनेट की बैठक में नोटों की नसबंदी पर विधानसभा का स्पेशल सेशन बुलाने का फैसला लिया गया था।

  • सीएम ने मंगलवार को विधानसभा में नोटों की नसबंदी के खिलाफ बोलते हुए डिमोनेटाइजेशन करने के मोदी सरकार के तरीके की आलोचना की।

उन्होंने कहा, मोदी ने जिस तरह नोटों की नसबंदी का ऐलान किया, मैं उसकी निंदा करता हूं।

शांता के बोल, बड़ा ऑपरेशन है पीड़ा तो होगी

सांसद शान्ता कुमार ने केंद्र सरकार द्वारा 1000 और 500 रुपए के नोटों को बंद करने के निर्णय को पीएम मोदी का एक ऐतिहासिक और साहसिक फैसला करार दिया है। उन्होंने कहा कि निसंदेह यह एक बड़ा ऑपरेशन है, कुछ दिन पीड़ा तो होगी पर इस गंभीर रोग का ईलाज भी यही था। shanta-kumar

आज एक प्रेस वक्तव्य में  शान्ता कुमार ने कहा है कि भारत का विपक्ष जो कभी किसी मुद्दे पर एक जुट नहीं होता था वह काला धन समाप्त करने के सरकार के निर्णय के विरुद्ध इकट्ठा हो रहा है।वास्तव में इस निर्णय के बाद भ्रष्टाचार और काले धन की कड़वी सच्चाई बेनकाब हो रही है।

शांता कुमार ने कहा कि कांग्रेस ने देश की राजनीति को काला  कर दिया था मोदी सरकार ने उस राजनीति और अर्थनीति को सफ़ेद करने के लिए ऐतिहासिक एवं साहसिक निर्णय लिया है l

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है