×

मणिकर्ण-कुल्लू में वसंतोत्सव का आगाज

मणिकर्ण-कुल्लू में वसंतोत्सव का आगाज

- Advertisement -

कुल्लू। भगवान रघुनाथ की रथयात्रा के साथ बुधवार को वसंतोत्सव का आगाज हुआ। हजारों लोगों ने ऐतिहासिक ढालपुर मैदान में रथ को खींच कर पुण्य कमाया। अंतरराष्ट्रीय दशहरा पर्व के बाद भगवान रघुनाथ की यह दूसरी रथ यात्रा रही। इसके लिए ढालपुर मैदान में भगवान रघुनाथ का अस्थाई शिविर भव्य रूप से सजाया गया था। इस मौके पर जिला के हजारों लोगों की भीड़ भगवान रघुनाथ के दर्शन करने के लिए यहां पहुंची। वसंत पंचमी के अवसर पर हुई इस रथयात्रा में रामायण काल की घटना का चित्रांकन देखने को मिला। यहां पर जैसे ही रथ ढालपुर स्थित अस्थाई कैंप में पहुंचा तो राम-भरत का मिलन देखकर सब भाव-विभोर हो उठे। परंपरा के अनुसार भरत की भूमिका महंत खानदान के व्यक्ति ने निभाई। यह सब वर्ष 1651 में अयोध्या से लाई गई भगवान राम की अंगुष्ठ कद की मूर्ति के समक्ष हुआ। वसंत पंचमी के इस पर्व में जहां राम-भरत का मिलन के गवाह हजारों लोग बने। वहीं भरत अपने बड़े भाई राम को अयोध्या ले जाने के लिए भी प्रार्थना करते रहे। राम भरत मिलन के बाद हनुमान जी की अठखेलियां लोगों के लिए
आकर्षण का केंद्र रही। केसरी रंग से पूरी तरह रंगे हुए हनुमान जिन श्रद्धालुओं को रंग लगाएंगे वे अपने आप को सौभाग्यशाली मानते हैं। इसी परंपरा को हनुमान ने यहां निभाया और सभी लोगों के साथ होली खेली। अधिष्ठाता राम की कृपा दृष्टि के चलते अधिकतर श्रद्धालु यहां पीले वस्त्र पहनकर आए हुए थे। रघुनाथ की नगरी से अधिष्ठाता रघुनाथ को ढालपुर मैदान तक लाया गया। कुल्लू के अलावा इस परंपरा का निर्वाह कुल्लू की प्राचीन राजधानी नग्गर, ठावा व मणिकर्ण में भी किया गया। इसके बाद अधिष्ठाता रघुनाथ को अगले 40 दिनों तक हर दिन गुलाल फैंका जाएगा। होली से 8 दिन पूर्व यहां होलाष्ठक का भी आयोजन होगा। बहरहाल, रघुनाथ की रथयात्रा से देवभूमि कुल्लू निहाल हो गई हैं और वसंत पंचमी का खुशी-खुशी से आगाज हुआ। उधर, मणिकर्ण में भगवान श्रीराम के दर्शन के लिए भारी सख्या में श्रद्धालु जुटे।


 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है