हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

यहां निजी वाहनों से अस्पताल पहुंचाने पड़ते है मरीज

- Advertisement -

जोगिंद्रनगर। हिमाचल प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने के दावे उस समय हवा हो जाते हैं, जब मरीज को अस्पताल पहुंचाने के लिए एंबुलेंस तक उपलब्ध नहीं हो पाती। पिछले कल रात को भी हुए ऐसा ही हुआ जब मरीज को असप्ताल पहुंचाने के लिए ना तो सिविल अस्पताल जोगिन्दरनगर और ना ही सिविल अस्पताल लडभड़ोल में 108 एंबुलेंस मिल पाई। हालांकि सिविल अस्पताल जोगिन्दर नगर में एक 108 एम्बुलेंस तो है पर लडभड़ोल में तो वो भी नहीं है। हुआ ये कि दो गंभीर मरीजों को टांडा मेडिकल कॉलेज के लिए रैफर किया गया। उनमें से एक हार्ट के मरीज दर्द से कराह रहे थे तथा दूसरे मरीज का ब्लड प्रैशर बहुत बढ़ा हुआ था तथा नाक से खून भी बह रहा था। दोनों ही मरीज गंभीर अवस्था में थे, लेकिन अस्पताल में उस वक्त एक भी 108 एम्बुलेंस उपलब्ध नहीं थी। अस्पताल की एक मात्र 108 एम्बुलेंस कुछ देर पहले ही किसी अन्य मरीज को लेकर टांडा रवाना हुई थी। 108 एम्बुलेंस उपलब्ध न होने के कारण गंभीर हालत में एक मरीज को रात साढ़े 10.30 बजे तथा दूसरे मरीज को रात 11 बजे प्राइवेट वाहनों के माध्यम से टांडा ले जाया गया। इसके अलावा एक युवक जिसे सांप ने डंसा था उसे भी निजी वाहन से टांडा लाया गया। अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी पर क्या कर रहे हैं

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED VIDEO

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है