Expand

विधायक की गाड़ी रोकने पर पम्मी समर्थकों पर FIR

विधायक की गाड़ी रोकने पर पम्मी समर्थकों पर FIR

- Advertisement -

बद्दी। दून के विधायक रामकुमार चौधरी की गाड़ी रोकने को लेकर पुलिस एफआईआर दर्ज कर ली है। मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार यह मामला विधायक चौधरी राम कुमार के चालक अनु परमार की शिकायत पर दर्ज हुआ है कि 1 दिसंबर को गाड़ी में विधायक के अलावा शहरी कांग्रेस प्रधान संजीव कुमार कुंडलस, भाग सिंह प्रधान ग्राम पंचायत हरिपुर संडोली, हतिन्द्र सिंह सोनू उपप्रधान बरोटीवाला, पीएसओ गुरचरण सिंह चौधरी को लेकर ग्राम पंचायत गुल्लरवाला में आयोजित कुश्ती दंगल मैदान में जा रहा था, जैसी ही शाम करीब 5 बजे गाड़ी को लेकर छिंज मैदान के पास पहुंचा, तो वहां पर पहले से मौजूद 10-12 लड़कों ने एकदम गाड़ी को आगे से घेरकर रास्ता रोक लिया।

  • ram-kumar-lमामला दर्ज कर जांच में जुटी बद्दी पुलिस
  • विधायक रामकुमार की शिकायत में दर्ज हुआ केस
  • विधायक को जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप

शिकायकर्ता के अनुसार लड़के गाड़ी के बोनट पर मुक्के मारने लगे तथा धमकी देने लगे की अगर आज कुश्ती मैदान में गए तो, विधायक को हम जान से मार देंगे। शिकायतकर्ता के अनुसार इन लड़कों के नाम राणा सपुत्र बंत राम गांव कडुआना, पप्पु गुज्जर सपुत्र राम लोक कडुआना, हरविन्द्र सिंह पुत्र सुच्चा सिंह गांव गुलरवाला, हरदीप सिंह पुत्र केवल सिंह गांव गुल्लरवाला तथा हैपी, मंगल, गुरदीप सिंह, परमजीत सिंह परम, कुलदीप सिंह कडुआना, प्यारा सिंह पुत्र राम लोक, गुरदीप सिंह पुत्र संपूर्ण सिंह सभी निवासी कडुआना गांव के हैं। उसके बाद भी उपरोक्त सभी लोग अभद्र टिप्पणियां, इशारे व गाली-गलौज करके धमकियां देते रहे।

शिकायकर्ता के अनुसार उपरोक्त सभी लोगों से उन्हें जान व माल का खतरा है। एसपी बद्दी बशेर सिंह चौहान ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्जकर कार्रवाई शुरू कर दी है।  सूत्रों से पता चला है कि पुलिस ने जिन लोगों पर मामला दर्ज किया है वो कांग्रेस के बागी परमजीत सिंह पम्मी के समर्थक हैं। पम्मी भी उस दौरान कुश्ती दंगल में मौजूद थे और पूर्व में उनकी गिनती सीएम वीरभद्र सिंह के समर्थकों में की जाती थी। अब कांग्रेस में उनकी वापसी आसार शून्य हो गए हैं और वह भगवा पार्टी में जाने को उत्सुक हैं।

गत विस चुनावों में परमजीत ने आजाद होकर चुनाव लड़ा था और 11 हजार के लगभग वोट लिए थे। उनके व विधायक राम के समर्थकों में पहले भी धक्का-मुक्की हो चुकी है और पूर्व में कई मामले चले रहे हैं। पुलिस के लिए सार्वजनिक कार्यक्रमों में कानून व्यवस्था बनाना टेडी खीर होता जा रहा है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है