×

BSNL के बुरे दिन: बिजली बिल न भरने पर 524 एक्सचेंज,1083 मोबाइल टावर ठप

BSNL के बुरे दिन: बिजली बिल न भरने पर 524 एक्सचेंज,1083 मोबाइल टावर ठप

- Advertisement -

नई दिल्ली। बिजली बिल का भुगतान नहीं करने के कारण सरकारी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी बीएसएनल के करीब ग्यारह सौ मोबाइल टावर और पांच सौ से ज्यादा एक्सचेंज ठप हो गए हैं। दूरसंचार विभाग के आंकड़ों के अनुसार, 10 जुलाई तक बिजली का बिल नहीं चुकाने के कारण देश भर में बीएसएनएल (BSNL) के 524 एक्सचेंज और 1,083 मोबाइल टावर (Mobile Towers) का बिजली का कनेक्शन काट दिया गया है। इससे ये निष्क्रिय पड़े हैं। उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 391 टावरों का और महाराष्ट्र में 178 एक्सचेंजों का बिजली (Electricity) कनेक्शन कट चुका है। एक बार मोबाइल टावर या टेलीफोन एक्सचेंज निष्क्रिय होने से उस इलाके में कंपनी की सेवाएं ठप हो जाती हैं और ग्राहक दूसरी दूरसंचार कंपनियों की सेवाएं लेने को विवश हो जाते हैं।


 

यह भी पढ़ें:  इतना बड़ा अजगर के विशाल और खतरनाक मगरमच्‍छ को ही निगल गया

 

एजेंसी की खबरों के मुताबिक बिजली बिल नहीं चुकाने के कारण कर्नाटक में 156, उत्तर प्रदेश में 132, पश्चिम बंगाल में 20 और तेलंगाना तथा हरियाणा में 13-13 टेलीफोन एक्सचेंज बेकार पड़े हैं। उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 208 मोबाइल टावर, कर्नाटक में 120, तमिलनाडु में 111, तेलंगाना में 76, पश्चिम बंगाल में 50, मणिपुर में 36, जम्मू-कश्मीर में 19, गुजरात में 17, बिहार में 14 और असम तथा आंध्र प्रदेश में 11-11 टावर का कनेक्शन बिजली विभाग ने काट दिया है। उधर, एक पहलु यह भी है कि पिछले दो वित्त वर्ष के दौरान बीएसएनएल की बाजार हिस्सेदारी बढ़ी है। उसकी बाजार हिस्सेदारी 31 मार्च 2017 को 9.63 प्रतिशत थी जो 31 मार्च 2018 को बढ़कर 10.26 प्रतिशत और 31 मार्च 2019 को 10.72 प्रतिशत हो गयी। वहीं मुंबई और दिल्ली में सहयोगी कंपनी एमटीएनएल की बाजार हिस्सेदारी घट रही है। यह 31 मार्च 2017 के 7.37 प्रतिशत से घटते हुये 31 मार्च 2018 को 7.16 प्रतिशत और 31 मार्च 2019 को 6.95 प्रतिशत पर आ गयी। एमटीएनएल सिर्फ मुंबई और दिल्ली में सेवाएँ देती है।

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है