Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

Una से 6 बसों में 130 प्रवासी Kalka रवाना, झारखंड जाने वाली Train में होंगे सवार

Una से 6 बसों में 130 प्रवासी Kalka रवाना, झारखंड जाने वाली Train में होंगे सवार

- Advertisement -

ऊना। आईएसबीटी ऊना (Una) से 6 बसों के माध्यम से झारखंड जाने वाली ट्रेन (Train) में सवार होने को 130 प्रवासियों को कालका (Kalka) के लिए रवाना किया गया। सुबह 9 बजे से ही झारखंड व बिहार जाने वाले यात्री न्यू बस स्टैंड पर जुटना शुरू हो गए थे। डीसी ऊना संदीप कुमार (DC Una Sandeep Kumar) ने स्वयं यहां व्यवस्थाओं का जायजा लिया और व्यवस्था में तैनात अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इसके बाद दोपहर लगभग 11.30 बजे नोडल अधिकारियों की उपस्थिति में सभी बसों को ऊना से रवाना कर दिया गया। डीसी ने बताया कि यात्रियों को रवाना करने तथा व्यवस्थाएं बनाने के लिए दो अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। जिला पंचायत अधिकारी रमण कुमार शर्मा तथा एचएएस (HAS) प्रोबेशनर गुंजीत सिंह चीमा सारी व्यवस्थाएं देख रहे हैं तथा दोनों अधिकारी बसों के साथ कालका के लिए रवाना किए गए हैं।

यह भी पढ़ें: एक दिन की SDM बनी हिमाचल की ये बेटी, पिता इसी ऑफिस में हैं चपरासी


यह भी पढ़ें: बिग ब्रेकिंगः TET का शेड्यूल जारी, जाने किस दिन होगी परीक्षा- कब से करें आवेदन

उन्होंने कहा कि जाने से पहले सभी यात्रियों को खाने-पीने की सामग्री तथा पानी की बोतल प्रदान की गईं। खाने की सामग्री गुरू का लंगर सेवा समिति के सौजन्य से पैक कर जिला प्रशासन तक पहुंचाई गई, जिसे सभी यात्रियों को वितरित किया गया। उन्होंने बताया कि सभी बसों को अच्छी तरह से सैनिटाइज किया गया तथा बस अड्डे पर भी सोडियम हाइपोक्लोराइट (Sodium Hypochlorite) कैमिकल का छिड़काव किया गया है।

 

यह भी पढ़ें: Curfew पास भरने और प्रिंटिंग के नाम पर लूटे जा रहे मजदूर, SDM ने दी कड़ी चेतावनी

ऊना बस अड्डे पर छपरा बिहार निवासी रमाकांत त्रिपाठी ने कहा “मैं अध्यापन का कार्य करता हूं और ऊना में रहते हुए कोई परेशानी नहीं आई। लेकिन घर में कुछ समस्या है, इसलिए बिहार जा रहा हूं और जल्द ही वापस हिमाचल प्रदेश लौटूंगा।” झारखंड निवासी नीतीश कुमार ने कहा कि वापस अपने गांव जा रहा हूं। ऊना में सभी व्यवस्थाएं अच्छी हैं। बस में सभी यात्रियों को खाने के पैकेट तथा पानी की बोतल प्रदान की गई हैं और सभी अधिकारी कर्मचारी पूर्ण सहयोग कर रहे हैं। वहीं, बिहार निवासी फतेह आलम अंसारी ने कहा कि ऊना में वह काम करता था, लेकिन लॉकडाउन की वजह से काम कम हो गया है। इसलिए वापस अपने घर जा रहे हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है