×

मंदिरों में चढ़ावे का 15 प्रतिशत गौ सदनों के लिए : CM 

मंदिरों में चढ़ावे का 15 प्रतिशत गौ सदनों के लिए : CM 

- Advertisement -

पालमपुर। CM जयराम ठाकुर ने कहा है कि राज्य सरकार जिला तथा उप-मण्डल स्तर पर गौ-सदनों की स्थापना करेगी, जिसके लिए सरकार ने प्रमुख मन्दिरों में चढ़ावे का 15 प्रतिशत गौ-सदनों के प्रबन्धन के लिए उपयोग करने का निर्णय लिया है। शराब की प्रत्येक बोतल की बिक्री पर एक रुपया गौ-सदनों के लिए वसूला जाएगा। यह बात CM जयराम ठाकुर ने आज कांगड़ा जिले के पालमपुर स्थित हिमालयन बायो रिसोर्स टेक्नोलॉजी के CSIR संस्थान (IHBT) में अपनी पहली मुलाकात के दौरान जनसभा को सम्बोधित करते हुए कही।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार स्वेदशी नस्ल की गायों को पालने के लिए किसानों को हर सम्भव सहायता प्रदान करेगी। राज्य सरकार ने प्रदेश में शून्य लागत प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के लिए बजट में 25 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है और राज्य सरकार विभिन्न क्षेत्रों में अनुसंधान करने के लिए वैज्ञानिकों को समर्थन सुनिश्चित करेगी। CM ने कहा कि हमें अपनी सदियों पुराना पारम्परिक फसल पद्वति को अपनाना चाहिए, क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव नही हैं और यह काफी किफायती भी है। उन्होंने कहा कि रासायनिक उर्वरकों के अत्यधिक उपयोग के कारण मिट्टी की प्रजनन क्षमता प्रभावित हुई है और साथ ही यह हमारे स्वास्थ्य के लिए दुष्प्रभाव पैदा कर रही है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि देश की 70 प्रतिशत से अधिक आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है और मुख्य व्यवसाय कृषि तथा संबद्ध गतिविधियां हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के विकास पर ध्यान दिए बिना देश के विकास के बारे में सोचना सम्भव नहीं है। उन्होंने वैज्ञानिकों से अपना अनुसंधान किसानों तक पहुंचाने का आग्रह किया ताकि वह अपनी आय में वृद्धि के लिए नवीनतम प्रौद्योगिकी को अपनाकर लाभान्वित हो सकें। उन्होंने कहा कि वैश्वीकरण की चुनौतियों से निपटने के लिए प्रत्येक क्षेत्र में नई पहल करना समय की आवश्यकता है। CM ने इस अवसर पर संस्थान द्वारा एरोमेटिक ऑयल्स ऑफ हिमालयाज़ वैबसाईट और सब्बैटिकल होम का भी लोकार्पण किया, साथ ही किसानों को जंगली मैरीगोल्ड की सुधरी किस्म के बीज प्रदान किए।

फूलों की खेती की अपार संभावनाएं

अपने भाषण में पूर्व CM तथा सांसद शांता कुमार ने कहा कि प्रदेश में पुष्प उत्पादन की अपार संभावना है और इसके उचित विपणन पर बल दिया जाएगा। उन्होंने राज्य सरकार से संस्थान के वैज्ञानिकों द्वारा किए जाने वाले अनुसंधान को कॉरपरेट घरानों से जोड़ने का आग्रह किया। उन्होंने देशी गायों की नस्ल के पालन पर बल दिया तथा राज्य सरकार से इस नस्ल को प्रोत्साहित करने का आग्रह किया। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विपिन सिंह परमार ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि संस्थान की स्थापना पालमपुर में 1983 में की गई थी और संस्थान प्रदेश में समृद्ध जैव-विविधता के संरक्षण के लिए निरंतर भरसक प्रयास कर रहा है। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री किशन कपूर, शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी, विधायक राकेश पठानिया, रविन्द्र धीमान, अरूण मेहरा तथा मुल्ख राज प्रेमी, पूर्व विधायक दुलो राम, भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष इन्दु गोस्वामी, अतिरिक्त मुख्य सचिव डा. श्रीकांत बाल्दी, उपायुक्त संदीप कुमार, SP सन्तोष पटियाल भी इस अवसर पर उपस्थित थे।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है