Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,944,783
मामले (भारत)
179,349,385
मामले (दुनिया)
×

लड़के ने जिंदा घोंघा खाया, 9 साल में घोंघे ने लड़के को खा लिया

लड़के ने जिंदा घोंघा खाया, 9 साल में घोंघे ने लड़के को खा लिया

- Advertisement -

नई दिल्ली।दोस्तों के बीच लगी शर्त कभी जानलेवा भी साबित हो सकती है। इसी तरह का वाकया ऑस्ट्रेलिया में शु्क्रवार को तब सामने आया, जब शर्त के चक्कर में रग्बी प्लेयर रहे सैम बैलार्ड की जान चली गई। 28 साल के सैम ने 19 साल की उम्र में नशे में टल्ली होकर एक घोंघे को जिंदा खा लिया था।

घोंघे को खाते ही सैम के आधे शरीर में लकवा मार गया। उसे हॉस्पिटल में एडमिट किया गया, जहां डॉक्टर्स ने परिवार को बुरी खबर दी। बताया गया कि जिस घोंघे को सैम ने खाया उसके अंदर लंगवॉर्म नाम का वायरस था। इस वायरस से सैम भी जकड़ जुका था। वायरस ने सैम के अंदरूनी अंगों को बर्बाद करना शुरू कर दिया था।डॉक्टर्स ने बताया कि ये वायरस गंदे कीड़े या चूहे के मल में पाया जाता है। घोंघे भी कई बार चूहों का मल खाते हैं। इसी वजह से ये वायरस उनमें भी पाया जाता है।


लंगवॉर्म से पीड़ित सैम को eosinophilic meningo-encephalitis हो गया, जिससे उसके दिमाग पर बुरा असर पड़ा। जब वो कोमा से बाहर आया तो उसका पूरा शरीर लकवा मार चुका था। सैम की मां को पहले लगता था कि वो एक वापस पहले जैसा हो जाएगा पर दिमाग में इंफेक्शन होते ही सैम के ठीक होने की उम्मीद खत्म हो चुकी थीं। करीब 8 साल तक सैम के परिवार ने उसकी सेवा की। उसके दोस्तों ने भी उसके ट्रीटमेंट के लिए कई जगहों से पैसा इकट्ठा किया था।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है