Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

कुटलैहड़ के घरवासड़ा में पहली बार उड़े मानव परिंदे, सुबह सात बजे हुआ ट्रायल

अब तकनीकी समिति टैक ऑफ तथा लैंडिंग साइट को अधिसूचित करेगी

कुटलैहड़ के घरवासड़ा में पहली बार उड़े मानव परिंदे, सुबह सात बजे हुआ ट्रायल

- Advertisement -

ऊना । कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के घरवासड़ा से आज मानव परिंदों ने पहली बार उड़ान भरी। तकनीकी समिति के सामने सुबह लगभग 7 बजे दो पैराग्लाइडर्स ( 2 Paragliders) ने घरवासड़ा टेक ऑफ किया तथा गरीबनाथ मंदिर के पास लैंडिंग ( landing) की। अटल विहारी वाजपेयी पर्वतारोहण एवं संबंधी खेल संस्थान मनाली के अतिरिक्त निदेशक सुरिंदर ठाकुर ने कहा कि उड़ान का ट्रायल सफल रहा है। अब इसके बाद तकनीकी समिति ( Technical Committee)टैक ऑफ तथा लैंडिंग साइट को अधिसूचित करेगी। घरवासड़ा का पर्यटकों के लिए पैराग्लाइडिंग (Paragliding) कराने का उपयुक्त स्थान पाया गया है। हिमाचल प्रदेश में पैराग्लाइडिंग के लिए बीड़-बिलिंग के बाद घरवासड़ा को देश में दूसरी सबसे बेहतर साइट पाया गया है।

ये भी पढ़ेः हिमाचल के इस जिला के आसमान में दिखेंगे मानव परिंदे, पैराग्लाइडिंग को लोकेशन की फाइनल

डीसी राघव शर्मा ने कहा कि प्रोफेशन पायलट ने आज घरवासड़ा से अंदरौली तक उड़ान भरी है, जो कामयाब रही।, जिससे अब व्यवसायिक रूप से पैराग्लाइडिंग करने का रास्ता साफ हो गया है। लैडिंग का स्थान गोबिंद सागर के बिल्कुल किनारे हैं, जिससे विहंगम दृश्य बनता है। लैंडिंग व टेक ऑफ साइट को विकसित किया जाएगा, साथ ही यह स्थान पंजाब व हिमाचल के सीमा के पास है और बहुत से पर्यटक पंजाब से यहां घूमने व गोबिंद सागर का सुंदर नजारा देखने के लिए आते हैं। पैराग्लाइडिंग जैसे साहसिक खेल की शुरूआत होने से इस पूरे क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। कुटलैहड़ टूरिज्म डेवलेपमेंट सोसाइटी के माध्यम से अंदरौली में जल क्रीड़ाओं के आयोजन के लिए कॉम्पलेक्स बनना भी प्रस्तावित है तथा बहुत जल्द गोबिंद सागर में वाटर स्पोर्ट्स भी शुरू होंगी। यह सारी गतिविधियां क्षेत्र के विकास में मददगार बनेंगी।


प्रदेश के ऊना जैसे जिला में एयरो स्पोर्ट्स की शुरुआत होना अपने आप में एक बड़ी बात है। पैराग्लाइडर्स की सफल उड़ान और सफल लैंडिंग के बाद यहां पर ऐसी साहसिक गतिविधियों के लिए रास्ता खुल गया है, वहीं स्थानीय लोगों में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। जिला परिषद सदस्य कृष्ण पाल शर्मा और स्थानीय व्यवसायी अभय पराशर ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र कुटलैहड़ में जिस तरह से एयरो स्पोर्ट्स के लिए प्रयास शुरू हुए है वैसे ही गोविंद सागर में वाटर स्पोर्ट्स भी शुरूहोने जा रहा है। उन्होंने कहा कि इससे क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और स्थानीय युवाओं को रोजगार भी प्राप्त होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है