×

Olympic में पदक लाने वाले India स्पीड स्टार की तलाश शुरू

Olympic में पदक लाने वाले India स्पीड स्टार की तलाश शुरू

- Advertisement -

धर्मशाला। 2020 व 2024 में होने वाले ओलंपिक के लिए नेशनल युवा कॉपरेटिव सोसायटी और गेल इंडिया ने पदक लाने वाले इंडिया स्पीड स्टार की तलाश शुरू कर दी है। शनिवार को धर्मशाला में प्रेस वार्ता के दौरान सोसायटी के निदेशक उमेश दत्त ने बताया कि पूरे देश में 11 से 14 व 15 से 17 आयुवर्ग के लड़के-लड़कियों की तालाश शुरू कर दी गई है, जिसके तहत हिमाचल प्रदेश में पहले चरण के ट्रायल मंडी में आयोजित हो चुके हैं, जिसमें 2 हजार से भी अधिक लड़के-लड़कियों ने भाग लिया।


  • मंडी में हुए पहले चरण के ट्रायल, 2 हजार से भी अधिकने भाग लिया
  • साई ग्राउंड धर्मशाला में 22 जनवरी को होंगे दूसरे चरण के तहत ट्रायल

उन्होंने कहा कि दूसरे चरण के तहत 22 जनवरी को साई ग्राउंड धर्मशाला में खिलाड़ियों की तालाश के लिए ट्रायल रखा गया है। इसमें 100, 200 व 400 मीटर दौड़ का ट्रायल लिया जाएगा और जो इसमें चयनित होगा, उसे जोनल लेवल का प्रशिक्षण दिया जाएगा और उसके बाद  राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय  स्तर पर प्रशिक्षित किया जाएगा। इस ट्रायल के लिए कांगड़ा, चंबा, हमीरपुर व ऊना के लड़के- लड़कियों को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने बताया कि सोसायटी व गेल का उदेश्य राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभावान युवा खिलाड़ियों की पहचान करना है जो देश के लिए ओलंपिक पदक जीत सकें। उन्होंने बताया कि जिसका चयन होगा उन्हें जिला, प्रदेश और फिर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों को 2020 में टोकियो में होने वाले ओलंपिक में जाने का मौका भी मिलेगा। उमेश दत्त ने बताया कि उनकी सलेक्शन टीम में जानी मानी धावक पीटी उषा, श्रीराम सिंह शेखावत, रचिता मिस्त्री, अनुराधा विसवाल व कविता राऊत जैसे दिग्गज एथलिट शामिल हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है