×

यहां शादी के वक्त बेटी को दहेज में जहरीले सांप देता है पिता, जानिए इसके पीछे का रहस्य

यहां शादी के वक्त बेटी को दहेज में जहरीले सांप देता है पिता, जानिए इसके पीछे का रहस्य

- Advertisement -

भोपाल। जब बेटी की शादी होती है तो हर मां-बाप उसे ढेर सारे तोहफे और बहुत कुछ उपहार में देते हैं। सभी अपनी हैसियत के हिसाब से बेटी को बढ़िया से बढ़िया चीज देते हैं। क्या आपने कभी सुना है कि दहेज में किसी बाप ने बेटी और दामाद को जहरीले सांप (Poisonous snakes) भी दिए हों। ये बात जानकर आपको हैरानी तो हो रही होगी, लेकिन यह सौ फीसदी सच है। इस प्रथा का चलन हमारे ही देश में मध्य प्रदेश के एक विशेष समुदाय में है।


ये भी पढे़ं – शादी के कार्ड पर लड़की ने मांगा Cash, गिफ्ट के आधार पर सेट किया खाने का Menu

 

मध्य प्रदेश के गौरिया समुदाय के लोग अपने दामाद को दहेज (Dowry) में 21 जहरीले सांप देते हैं। इस समुदाय में यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। मान्यता है कि अगर इस समुदाय से जुड़ा कोई शख्स अपनी बेटी को शादी में सांप नहीं देता है तो उसकी बेटी की शादी जल्दी ही टूट जाती है। कहते हैं कि बेटी की शादी तय होते ही पिता अपने दामाद को तोहफा देने के लिए सांप पकड़ना शुरू कर देते हैं। इनमें गेंहुअन जैसे जहरीले सांप भी होते हैं। यहां के बच्चों को भी उन जहरीले सांपों से डर नहीं लगता बल्कि वो उनके साथ आराम से खेलते नजर आते हैं।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

 

दरअसल, इस समुदाय के लोगों का मुख्य पेशा सांप पकड़ना है और वो उन्हें लोगों को दिखाकर पैसा कमाते हैं। यही वजह है कि पिता अपनी दामाद को दहेज में सांप देता है, ताकि वो इन सांपों के जरिए कमाई कर सके और परिवार का पेट पाल सके। इस समुदाय में सांपों को सुरक्षित रखने के लिए कड़ा नियम भी बनाया गया है। कहते हैं कि अगर सांप इनके पिटारे में मर जाता है तो पूरे परिवार के लोगों को मुंडन कराना पड़ता है साथ ही समुदाय के सभी लोगों को भोज करना पड़ता है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है