Covid-19 Update

2,21,437
मामले (हिमाचल)
2,16,413
मरीज ठीक हुए
3,704
मौत
34,081,315
मामले (भारत)
241,563,005
मामले (दुनिया)

Himachal में अब तक 22 फीसदी लोगों को लगा कोरोना टीका

45 वर्ष से अधिक आयु के 76 प्रतिशत लोगों ने ली पहली खुराक

Himachal में अब तक 22 फीसदी लोगों को लगा कोरोना टीका

- Advertisement -

शिमला। अब तक प्रदेश की आबादी में से 22 प्रतिशत लोगों को टीकाकरण अभियान (Vaccination Campaign) के तहत कवर किया गया है। 45 वर्ष तथा अधिक आयु वर्ग के लगभग 76 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन की पहली खुराक दे दी गई है। प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए कोविड (Covid) टीकाकरण तब आरंभ किया जाएगा जब इसके लिए कोविड वैक्सीन प्राप्त होगी। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक डॉ. निपुण जिंदल (Mission Director, National Health Mission Dr. Nipun Jindal) ने आग्रह किया है कि 45 वर्ष तथा अधिक आयु वर्ग के शेष लोग शीघ्र टीका लगवा लें। जिन व्यक्तियों को पहले टीके के चार से आठ सप्ताह के बाद टीके की दूसरी खुराक लगनी है, वे भी समय पर टीका लगवा लें। उन्होंने बताया कि इस आयु वर्ग के लिए वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कोविड टीकाकरण की दो खुराक लेने के उपरान्त भी लोगों को कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करने का आग्रह किया है।

यह भी पढ़ें: Himachal में 18 से 45 वर्ष की आयु के लोगों को कब से लगेगा कोरोना टीका- जानिए

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि राज्य सरकार कोविड-19 की रोकथाम, नियंत्रण तथा प्रबंधन के लिए अनेक कदम उठा रही है। कोरोना वायरस अधिक संवेदनशील रोगियों के लिए सबसे बड़ी चुनौती है, जिनके लिए यह बीमारी अन्य लोगों की तुलना में ज्यादा जानलेवा है। ऐसे कई रोगी इन दिनों होम आइसोलेशन (Home Isolation) के तहत रह रहे हैं तथा ये लोग चिकित्सा परामर्श के लिए अपने मैप्ड चिकित्सा अधिकारी या कोविड हेल्पलाइन नम्बर 104 (टोल फ्री) पर सम्पर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि ई-संजीवनी ओपीडी (E-Sanjeevani OPD) की सुविधा के माध्यम से होम आइसोलेशन में रह रहे लोग घर बैठे ऑनलाइन चिकित्सा परामर्श ले सकते हैं। ई-संजीवनी ओपीडी की सुविधा लोगों, चिकित्सकों तथा स्वास्थ्य प्रणाली को आपस में जोड़ने का महत्त्वपूर्ण कार्य कर रही है तथा सभी को विशेषकर गंभीर लक्षणों वाले रोगियों को घर में ही रहते हुए चिकित्सकों के साथ संपर्क करने में सक्षम बना रही है। प्रवक्ता ने बताया कि इस उपभोक्ता मित्र ऐप ने कई रोगियों को घर बैठे सुरक्षित माहौल में अपने चिकित्सकों से ऑनलाइन परामर्श लेने में सहायता की है। उन्होंने होम आइसोलेशन अवधि के दौरान प्रत्येक रोगी द्वारा कम से कम दो परामर्श लेने पर बल दिया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है