Covid-19 Update

2,18,523
मामले (हिमाचल)
2,13,124
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,694,940
मामले (भारत)
232,779,878
मामले (दुनिया)

हिमाचल: जोगिंदर नगर में अचानक मर गई 2500 ट्राउट फिश, जानें पूरी डिटेल

पीड़ित मछली पलाक ने दर्ज कराई थाने में लिखित शिकायत

हिमाचल: जोगिंदर नगर में अचानक मर गई 2500 ट्राउट फिश, जानें पूरी डिटेल

- Advertisement -

जोगिंदर नगर। हिमाचल प्रदेश (Himachal) के मंडी जिले के जोगिंदर नगर (Joginder Nagar) के स्यूरी (आरठी) में करीब 25 सौ ट्राउट मछलियां अचानक मर गई। पशु चिकित्सकों की टीम ने मृत मछलियों का पोस्टमार्टम कर सैंपल वेटनरी अस्पताल पालमपुर भेजा। वैज्ञानिकों ने मछलियों के मरने की वजह दूषित जल (polluted water) और पानी में ऑक्सीजन की कमी (Lack of oxygen) को बता रहे हैं। वहीं, कई और पहलुओं पर भी संबंधित विभाग ने जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: नेपाली युवक ने दिखाई बहादुरी, उफनती नदी में कूदकर बचाई बेजुबान की जान

बता दें कि मंडी जिले के आरठी निवासी बचित्तर सिंह ने वर्ष 2017 में पशुपालन विभाग से सब्सिडी पर ट्राउट मछली का उत्पादन शुरू किया था। उनके चार डैमों में करीब 7500 मछलियां थीं। बुधवार को एक डैम में करीब 2500 मछलियां (trout fish) अचानक मर गईं। जिस कारण उन्हें 5 लाख से भी अधिक रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है। उन्होंने बताया कि करीब 10 क्विंटल मछलियां मर चुकी हैं।

इधर, उपमंडलीय पशु चिकित्साधिकारी दीपक वर्मा ने बताया कि करीब 2500 मछलियां अचानक मरी हुई मिली हैं। वहीं, मामले को लेकर पीड़ित ने पुलिस में लिखित शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस और पशु विभाग ने मामले की जांच शुरू कर दी है। उपमंडलीय पशु चिकित्साधिकारी जोगिंद्रनगर दीपक वर्मा ने कहा कि प्रारंभिक जांच में 2500 मछलियों की मौत का कारण ऑक्सीजन की कमी लग रही है। मालूम हो कि जोगिंद्रनगर की ट्राउट फिश का इन दिनों क्रेज बढ़ा है। किसान और पशुपालक भी इस ओर रुझान दिखा रहे हैं। ऐसे में अचानक इतनी बड़ी तादाद में मछलियों को मरना चिंता का विषय है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है