Covid-19 Update

2,18,523
मामले (हिमाचल)
2,13,124
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,694,940
मामले (भारत)
232,779,878
मामले (दुनिया)

Chennai से 259 हिमाचलियों की हुई घर वापसी, 114 उत्तराखंड से भी लौटे

Chennai से 259 हिमाचलियों की हुई घर वापसी, 114 उत्तराखंड से भी लौटे

- Advertisement -

नूरपुर/चंबा। लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न राज्यों में फंसे हिमाचलियों को लेकर विशेष ट्रेन चेन्नई से दोपहर 1 बजे पठानकोट पहुंची। इसमें 259 हिमाचल वासी आएं हैं। स्टेशन पहुंचने पर एसडीएम डॉ. सुरेंद्र ठाकुर ने इन यात्रियों का स्वागत किया। यह ट्रेन चेन्नई (Chennai) में फंसे हिमाचलियों को लेकर शुक्रवार को चली थी तथा आज रात तक उधमपुर पहुंचेगी। इस ट्रेन से हमीरपुर, ऊना (Una), बिलासपुर, शिमला (Shimla), सिरमौर, सोलन (Solan), मंडी जिलों के अतिरिक्त चंबा (Chamba) तथा कांगड़ा (Kangra) जिलों के फंसे लोगों को पहुंचाया गया। एसडीएम (SDM) नूरपुर सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि इन सभी लोगों को एचआरटीसी की 13 विशेष बसों के द्वारा अपने-अपने जिलों में बनाए गए संस्थागत क्वारंटाइन केंद्रों के लिए भेजा गया है।

यह भी पढ़ें: Himachal के इस जिला में Auto की आवाजाही को मिली हरी झंडी, ये रहेंगी शर्तें

कांगड़ा जिला के लोगों को ज्वालामुखी में संस्थागत क्वारंटाइन केंद्र में भेजा

उन्होंने बताया कि कांगड़ा जिला के लोगों को प्रशासन द्वारा ज्वालामुखी में बनाए गए संस्थागत क्वारंटाइन केंद्र में भेजा गया है, जबकि अन्य जिलों के यात्रियों को उनके जिलों में बनाए गए संस्थागत क्वारंटाइन केंद्रों में रखा जाएगा, जहां पर प्रशासन द्वारा इनके ठहरने व खान-पान की विशेष व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि इस ट्रेन से चंबा जिला के 146, कांगड़ा के 64, हमीरपुर के 18, मंडी के 9, ऊना के 2, बिलासपुर (Bilaspur) के 13, शिमला के 4, सिरमौर का 1 और सोलन जिला के 2 यात्री पहुंचे हैं। उन्होंने बताया कि जो विशेष बसें इन सभी यात्रियों के लिए लगाई गई हैं, इन्हें पूरी तरह से सैनिटाइज किया गया है। ट्रेन से उतरते तथा बसों में बैठते समय भी यात्रियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का विशेष ध्यान रखा गया। प्रशासन द्वारा 42 सीटर बस में केवल 22 यात्रियों को ही बिठाया गया। एसडीएम ने सभी यात्रियों को रवाना किया तथा अपनी शुभकामनाएं देते हुए उनसे आगे भी सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखने व मास्क लगाने की अपील की। उन्होंने सभी से आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने का भी आग्रह किया।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः Hamirpur में कोरोना के पांच नए मामले, Himachal में आंकड़ा पहुंचा 85

कांगड़ा जिला में चेन्नई और मुंबई से 329 लोग लौटे

डीसी राकेश प्रजापति ने कहा कि सोमवार को चेन्नई तथा मुंबई से कांगड़ा जिला के 329 नागरिक आए हैं, मुंबई से ट्रेन में आए 265 नागरिकों को उना रेलवे स्टेशन से सत्संग भवन परौर में एचआरटीसी की बसों के माध्यम से पहुंचाया गया, जबकि चेन्नई से ट्रेन में आए कांगड़ा जिला के 64 नागरिकों को पठानकोट रेलवे स्टेशन से एचआरटीसी की बसों में ज्वालामुखी पहुंचाया जाएगा। इन नागरिकों को परौर तथा ज्वालाजी में संस्थागत क्वारंटाइन सेंटरों में रखा जाएगा। इससे पहले गोवा से 323 नागरिकों को ट्रेन तथा एचआरटीसी की बसों के माध्यम से कांगड़ा जिला में प्रवेश करवाया गया है। डीसी ने कहा कि नागरिकों की आवाजाही में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। इसके साथ ही बसों में भी सामाजिक दूरी अनुपालना सुनिश्चित की गई है।

यह भी पढ़ें: जयराम बोले- बाहरी राज्यों से आए लोगों पर नजर रखें BJP पदाधिकारी

चंबा में 14 बसों में पहुंचे 278 लोग

हिमाचल प्रदेश के ऊना से हिमाचल पथ परिवहन निगम (HRTC) की 7 बसों जरिए 132 लोगों को चंबा लाया गया। डीसी विवेक भाटिया ने बताया कि इन सभी को राजपत्रित अधिकारियों और पुलिस एस्कॉर्ट के साथ जिला की सीमा में प्रवेश कराया गया। इस दौरान उनके खाने-पीने और स्वास्थ्य संबंधी सभी प्रबंध प्रशासन द्वारा किए गए ताकि उनको किसी भी किस्म की दिक्कत का सामना ना करना पड़े। उन्होंने बताया कि कल रात को ऊना से चली तीन बसों में कुल 42 व्यक्तियों को जिला चंबा में लाया गया। जबकि सुबह ऊना से चली चार बसों में भी 90 लोग वापस पहुंचे हैं। विवेक भाटिया ने ये भी बताया कि आज पठानकोट से भी हिमाचल पथ परिवहन निगम की 7 बसों में 146 लोग पहुंचे हैं। स्वास्थ्य विभाग (Health Department) द्वारा इनकी स्क्रीनिंग की गई और उन्हें अब क्वारंटाइन (Quarantine) में भेज दिया गया है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि अब कोई भी व्यक्ति जब जिला की सीमा में प्रवेश करेगा तो पंजीकरण के साथ ही उसकी जानकारी का संदेश सीधे उसकी पंचायत के सचिव को भी चला जाएगा।

यह भी पढ़ें: Mumbai और Goa से ऊना पहुंची ट्रेनें, 1300 हिमाचलियों की हुई घर वापसी, खिले चेहरे

सिरमौर से उत्तराखंड से संबंधित 189 लोगों को भेजा घर

नाहन। जिला सिरमौर के उपमंडल पांवटा साहिब (Paonta Sahib) से आज 189 लोगों को थर्मल स्क्रीनिंग व चिकित्सा जांच के बाद उतराखंड भेज दिया गया है, जिसमें 105 लोग पांवटा साहिब व नाहन में कार्यरत थे, जबकि 84 लोग सोलन जिला में काम कर रहे थे। यह जानकारी डीसी सिरमौर डॉ. आरके परूथी ने दी।उन्होंने बताया कि आज उपमंडल पांवटा साहिब के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक कन्या पाठशाला में थर्मल स्क्रीनिंग व चिकित्सा जांच की प्रक्रिया को पूरा किया गया इसके अतिरिक्त सभी लोगों मास्क, सैनिटाइजर (Sanitizer) के साथ-साथ भोजन भी दिया गया। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार के प्रयासों से हिमाचल के 114 लोग उतराखंड से 7 बसों द्वारा सिरमौर (Sirmaur) लाए गए, जिनमें चंबा के 47, सिरमौर के 25, शिमला 12, मंडी 12, कांगड़ा 9, हमीरपुर 4 और सोलन के 5 व्यक्ति शामिल थे, जिनको थर्मल स्क्रीनिंग व चिकित्सा जांच के बाद संबंधित जिला में भेज दिया जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है