Covid-19 Update

56,802
मामले (हिमाचल)
55,071
मरीज ठीक हुए
951
मौत
10,543,659
मामले (भारत)
94,312,257
मामले (दुनिया)

हिमाचलः #Pre_Primary के लिए 28 हजार 430 बच्चों ने करवाया Online पंजीकरण

शिक्षा मंत्री बोले-सभी स्कूलों में प्री-प्राइमरी कक्षाओं को शुरू करने के होंगे प्रयास

हिमाचलः #Pre_Primary के लिए 28 हजार 430 बच्चों ने करवाया Online पंजीकरण

- Advertisement -

शिमला। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर (Education Minister Govind Singh Thakur) ने यहां समग्र शिक्षा अभियान की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग ने कोविड-19 की इस संकट की घड़ी में विद्यार्थियों की शैक्षणिक गतिविधियां बाधित ना हों, इस दिशा में कई प्रयास किए हैं। उन्होंने कहा कि अध्यापकों ने बच्चों को ऑनलाइन शैक्षणिक सामग्री से जोड़ने में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) महामारी के दौरान भी वर्ष 2020-21 में प्रदेश के तीन हजार 840 विद्यालयों में 28 हजार 430 बच्चों ने प्री-प्राइमरी (#Pre_Primary) के लिए ऑनलाइन पंजीकरण (Online Registration) करवाया है। उन्होंने कहा कि भविष्य में प्रदेश के लगभग सभी स्कूलों में प्री-प्राइमरी कक्षाओं को शुरू करने के प्रयास किए जाएंगे और नए शैक्षणिक सत्र में प्री-प्राइमरी स्कूलों में बच्चों के पंजीकरण को बढ़ाने के प्रयास किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: #Himachal: 9वीं से 12वीं परीक्षाओं के लिए पंजीकरण और शुद्धि करने की अंतिम तिथि बढ़ी

शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह प्रदेश के सभी जिलों में तीन से चार वर्ष के बच्चों की पहचान कर, उन्हें सूचीबद्ध करें, ताकि इन बच्चों को प्री-प्राइमरी में प्रवेश लेने के लिए प्रेरित किया जाए। उन्होंने कहा कि प्री-प्राइमरी के विद्यार्थियों के लिए नई शिक्षा नीति के अंतर्गत पाठ्यक्रम तैयार किया जाएगा, जिसके अंतर्गत बच्चों को सरल भाषा में शिक्षा प्रदान की जाएगी। गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि नई शिक्षा नीति 21वीं सदी में विद्यार्थियों के सुनहरे भविष्य का निर्माण करने में कारगर सिद्ध होगी। प्रदेश में 9वीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को व्यवसायिक शिक्षा प्रदान की जा रही है। नई शिक्षा नीति में भी व्यावसायिक शिक्षा (Vocational Education) पर विशेष बल दिया गया है। उन्होंने कहा कि अगले शैक्षणिक सत्र में छठी कक्षा से व्यवसायिक शिक्षा आरंभ करने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों को विद्यालयों में व्यवसायिक प्रशिक्षण को और अधिक नवाचार आधारित बनाने के निर्देश दिए, ताकि अधिक विद्यार्थी इन रोजगारोन्मुख कार्यक्रमों के अंतर्गत प्रशिक्षण प्राप्त कर सकें।

यह भी पढ़ें: सितंबर में 10वीं पास करने वाले #Student जमा एक नियमित परीक्षा के लिए कर सकेंगे आवेदन

प्रदेश में बालिकाओं की शिक्षा और सशक्तिकरण पर विशेष बल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में वर्तमान 13 कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों की संख्या को और अधिक बढ़ाने के प्रयास किए जाएंगे। बैठक में शिक्षा सचिव राजीव शर्मा, समग्र शिक्षा अभियान के परियोजना अधिकारी वीरेंद्र शर्मा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है