Covid-19 Update

1,98,313
मामले (हिमाचल)
1,89,522
मरीज ठीक हुए
3,368
मौत
29,419,405
मामले (भारत)
176,212,172
मामले (दुनिया)
×

Kangra: निजी अस्पतालों में कोविड रोगियों के लिए 50% बेड होंगे आरक्षित

कांगड़ा के आठ निजी अस्पतालों को निर्देश जारी

Kangra: निजी अस्पतालों में कोविड रोगियों के लिए 50% बेड होंगे आरक्षित

- Advertisement -

धर्मशाला।डीसी कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति (DC Kangra Rakesh Kumar Prajapati) द्वारा कोविड-19 (Covid-19) से उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए तथा जिला में रोगियों के अस्पताल में भर्ती होने की क्षमता का विस्तार करने की सख्त जरूरत को देखते हुए 50 बेड (Bed) और इससे ऊपर की क्षमता वाले निजी अस्पतालों (Private Hospitals) के 50 प्रतिशत बेड को कोविड-19 के रोगियों के लिए आरक्षित करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि सूर्या अस्पताल राजा का तालाब, श्री बालाजी अस्पताल कांगड़ा (Shree Balaji Hospital Kangra), हिमाचल हेल्थ केयर/फोर्टिस अस्पताल कांगड़ा, मेपल लीफ कांगड़ा, सिटी अस्पताल घुरकड़ी कांगड़ा, विवेकानंद मेडिकल इंस्टीट्यूट पालमपुर, नव जीवन अस्पताल ज्वालामुखी तथा डेलेक अस्पताल धर्मशाला में यह सुविधा उपलब्ध रहेगी।

यह भी पढ़ें: कोरोना संकटः Kangra में बेड फुल, आगे की तैयारियों पर क्या बोले जयराम-जानिए

 


private hospitals

 

उन्होंने कहा कि आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 34 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग कर जनता के कल्याण में यह आदेश जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिला निगरानी अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO), जिला कांगड़ा द्वारा रेफरल के बाद आरक्षित 50 प्रतिशत बेड पर कोविड रोगियों की भर्ती की जाएगी। आईसीएमआर से अनुमोदित प्रयोगशाला में पुष्टि की गई पॉजिटिव रिपोर्ट पर कोविड पॉजिटिव रोगियों (Covid Positive Patients) को सीधे भी स्वीकार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी जिला कांगड़ा में प्रत्येक माध्यमिक स्तर के समर्पित आइसोलेशन (Isolation) सुविधा के लिए एक नोडल अधिकारी को तैनात किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Himachal के इस जिला ने प्रदेश सरकार से मांगे 100 ऑक्सीजन सिलेंडर

डीसी ने कहा कि वेंटिलेटर के साथ-साथ ऑक्सीजन (Oxygen) की आवश्यकता वाले रोगियों के लिए 8 हजार रुपये प्रति बिस्तर प्रति दिन की दर निर्धारित की गई है जबकि ऑक्सीजन की आवश्यकता वाले रोगियों के लिए यह दर 3 हजार रुपये प्रति बिस्तर प्रतिदिन रहेगी। उन्होंने बताया कि जिन मरीजों को ना तो वेंटिलेटर (Ventilator) और ना ही ऑक्सीजन की आवश्यकता है, उनके लिए 800 रुपये प्रति बिस्तर प्रतिदिन की दर निर्धारित की गई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी शुरू में इन अस्पतालों को 50 पीपीई किट (PPE Kit) और 100 एन-95 मास्क प्रदान करेंगे और इसके बाद वास्तविक आवश्यकता के आधार पर सामान की आपूर्ति की जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है