Covid-19 Update

57,257
मामले (हिमाचल)
55,919
मरीज ठीक हुए
961
मौत
10,689,202
मामले (भारत)
100,486,817
मामले (दुनिया)

500 लकड़ी उद्योगों को मिलेंगे License

500 लकड़ी उद्योगों को मिलेंगे License

- Advertisement -

चंडीगढ़। हरियाणा वन विभाग ने प्रदेश में लकड़ी आधारित उद्योगों की स्थापना के लिए लगभग 500 नए लाइसेंस जारी करने का निर्णय लिया है।  वन मंत्री राव नरबीर सिंह ने बताया कि ये लाइसेंस विभाग द्वारा विकसित की जा रही ई-नागरिक सेवा नामत लकड़ी आधारित उद्योग स्थापित करने के लिए लाइसेंस प्रदान करना के माध्यम से ऑनलाइन जारी किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि ऐसे उद्योगों की स्थापना से कृषि वानिकीकरण के तहत और अधिक  वृक्ष लगाने तथा हरियाणा वन नीति के लक्ष्यों को हासिल करने में मदद मिलेगी।  पहले से स्थापित लकड़ी आधारित उद्योगों का ऑनलाइन नवीकरण किया जाएगा। मंत्री ने बताया कि विभाग ने  वृक्ष काटने की अनुमति और  पीएलपीए या वन या प्रतिबंधित भूमियों के संबंध में अनापत्ति प्रमाणपत्र के नाम से दो ई-नागरिक सेवाएं पहले से ही शुरू की हुई हैं। इन दोनों सेवाओं को सेवा का अधिकार अधिनियम के साथ जोड़ा गया है।

  • वन मंत्री बोले, आॅनलाइन मिलेगी मंजूरी
  • हरियाली बढ़ाने के लिए लगाए जाएंगे पौधेjungle

उन्होंने बताया कि वन विभाग द्वारा वर्ष 2016-17 के दौरान एचएसआरएसएसी के माध्यम से 14 जिलों में खंड वन क्षेत्रों का डिजिटलीकरण किया गया है। महेंद्रगढ़,अंबाला, कुरुक्षेत्र, मेवात, गुरुग्राम, फरीदाबाद और रेवाड़ी जिलों में डिजिटलीकरण  का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा इस अवधि के दौरान लगभग 18842 हैक्टेयर भूमि पर 141.01 लाख पौधे लगाए गए। इसके अतिरिक्तए 31.56 लाख पौधे बेचे अथवा वितरित किए गए। उन्होंने बताया कि हरित क्षेत्र बढ़ाने के उद्देश्य से शुरू किए गए हर घर हरियाली कार्यक्रम के तहत घरों में 12.58 लाख पौधे लगाए गए। राव नरवीर ने कहा कि लोगों को प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण और सुरक्षा करने के प्रति संवेदनशील बनाने के लिए कलेसर से प्रकृति शिक्षा और जागरूकता कार्यक्रम भी शुरू किए गए हैं। उन्होंने कहा कि  हिसार, जींद और भिंडावास में प्रकृति शिक्षा और जारूकता केंद्र स्थापित किए गए हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है