Covid-19 Update

2,01,049
मामले (हिमाचल)
1,95,289
मरीज ठीक हुए
3,445
मौत
30,067,305
मामले (भारत)
180,083,204
मामले (दुनिया)
×

ग्राम कौशल योजना के पहले चरण में 5000 युवाओं को दिया जाएगा प्रशिक्षण

ग्राम कौशल योजना के पहले चरण में 5000 युवाओं को दिया जाएगा प्रशिक्षण

- Advertisement -

ऊना। ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने ‘समर्थ ऊना’ कार्यक्रम के तहत आज लमलैहड़ी में बांस उत्पादन तथा बांस के उत्पाद को तैयार करने के उद्देश्य से एक परियोजना का शुभारंभ किया। यह परियोजना ग्रामीण विकास विभाग तथा नाबार्ड के संयुक्त तत्वावधान में शुरू की गई है और इस अवसर पर परियोजना के समझौता पत्र का आदान-प्रदान भी किया गया। इस अवसर पर वीरेंद्र कंवर ने कहा कि मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना के माध्यम से गांव के शिल्प व पारंपरिक कलाओं को नया जीवन प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है। समर्थ ऊना के माध्यम से जिला में पहले चरण के दौरान 5000 युवाओं का चयन किया जाएगा, जिन्हें विभिन्न कलाओं का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।


प्रशिक्षण अवधि (Training period) के दौरान प्रशिक्षु को 3000 रुपए तथा प्रशिक्षक को 1500 रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर के जन्मदिन पर 6 जनवरी को इस ग्राम कौशल योजना का शुभारंभ शिमला से किया है और इस योजना के तहत पूरे प्रदेश में एक लाख बीपीएल परिवारों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है, ताकि गांव का पैसा गांव में ही रहे। इन परिवारों को समर्थ बनाने के लिए प्रदेश सरकार मददगार की भूमिका के तौर पर काम करेगी।

जिला में 2 करोड़ रुपए के लगेंगे बांस

ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार से जिला में बांस उगाने के लिए 2 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं। बांस (Bamboo) के पौधे लगाए जाने के बाद तीन-चार वर्षों में कच्चा माल उपलब्ध होगा, जिससे बांस के उत्पाद तैयार करने वालों को सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि बांस से तैयार होने वाले उत्पाद को बाजार भी उपलब्ध करवाया जाएगा, ताकि उत्पाद बनाने वाले स्वयं सहायता समूहों को आय प्राप्त हो सके। इस अवसर पर वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ में झील उत्सव फरवरी माह में आयोजित किया जाएगा, जिसका शुभांरभ सीएम जयराम ठाकुर करेंगे। गोबिंद सागर झील में पर्यटन गतिविधियां आयोजित होने से इलाके में विकास का नया अध्याय शुरू होगा।

उन्होंने बताया कि नाबार्ड (NABARD) के अंतर्गत 25 करोड़ रुपए तथा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 25 करोड़ रुपए कुटलैहड़ में सड़कों पर खर्च किए जा रहे हैं। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से पोषण अभियान के तहत प्रदर्शनी भी लगाई गई जिसमें गर्भवती महिलाओं को संतुलित आहार के बारे में जानकारी प्रदान की गई। ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने उपस्थित महिलाओं को पोषण अभियान के तहत फल भी वितरित किए।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है