×

क्यों महिला ने लगाई 72 लाख के ठेके के लिए 510 करोड़ की बोली, 15 घंटे चली नीलामी

एक ही परिवार की दो महिलाओं में दिखी वर्चस्व की लड़ाई, राजस्थान का मामला

क्यों महिला ने लगाई 72 लाख के ठेके के लिए 510 करोड़ की बोली, 15 घंटे चली नीलामी

- Advertisement -

हनुमानगढ़। राजस्थान के हनुमानगढ़ (Hanumangarh) जिला में एक ही परिवार की दो महिलाओं के बीच वर्चस्व की ऐसी जंग देखने को मिली कि 72 लाख का ठेका (Liquor Shop) 510 करोड़ रुपए में बिका। यही नहीं, नीलामी (Auction) प्रक्रिया ही 15 घंटे चली। अब 510 करोड़ की बोली लगाने वाली महिला को दो दिन के अंदर दुकान की कुल कीमत का दो प्रतिशत पैसा जमा करने के लिए विभाग (Excise Department) की ओर से कहा गया है। यदि नीलामी (Auction) प्रक्रिया में जीतने वाली महिला इस राशि का भुगतान नहीं करतीं तो उन्हें ब्लैक लिस्ट (Black List) कर दिया जाएगा। जो शराब के ठेके की दुकान इस साल 510 करोड़ में बिकी वो पिछले साल मात्र 65 लाख में बिकी थी।


यह भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल चुनाव : पीएम नरेंद्री मोदी की रैली में BJP का दामन थामेंगे अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती

अब आपको पूरा मामला समझाते हैं। दरअसल राजस्थान में शराब की दुकानों (Rajasthan Liquor bidding) की नीलामी प्रक्रिया चल रही है। इसी कड़ी में हनुमानगढ़ (Hanumangarh) जिले के कुईंयां गांव के लिए शराब की दुकान (Liquor Shop) की बोली लग रही थी। शराब के ठेके लिए बोली (Bidding) 72 लाख से शुरु हुई थी। इस शराब के ठेके लिए एक ही परिवार की दो महिलाओं में ऐसी होड़ मची कि सुबह 11 बजे से शुरू हुई बोली (Auction) रात 2 बजे खत्म हुई, लेकिन तब तक ठेके के लिए अंतिम बोली (Last Bid) 510 करोड़ रुपए पर लग चुकी थी।

यह भी पढ़ें: सावधान! 29 जनवरी के बाद आज भारत में कोरोना के 18 हजार से ज्यादा मामले

आपको बता दें कि राजस्थान में शराब की दुकानों की नीलामी ( Rajasthan Liquor Bidding) के लिए बोली प्रक्रिया अपनाई जा रही है। बोली प्रक्रिया का काफी ज्यादा विरोध भी किया जा रहा है। बोली की वजह से शराब के जो ठेके (Liquor Shop) पांच से दस लाख में बिकते थे, वो इस बार पांच से दस करोड़ में बिक रहे हैं। पूर्व सीएम वसुंधरा राजे (Former CM Vasundhara Raje) ने शराब के ठेकों में धन्नासेठों का वर्चस्व खत्म करने के लिए बोली सिस्टम खत्म कर लॉटरी सिस्टम रखा था, लेकिन सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) 15 साल पुरानी व्यवस्था को खत्म कर फिर से दुकानों की नीलामी (Auction) करवा रहे हैं। शराब की दुकानों की लग रही बोली से सरकार को हजारों करोड़ रुपये राजस्व के रूप में प्राप्त हो चुके हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है