Covid-19 Update

57,162
मामले (हिमाचल)
55,672
मरीज ठीक हुए
958
मौत
10,636,056
मामले (भारत)
98,348,639
मामले (दुनिया)

#Himachal का एक अस्पताल, जहां अब तक 52 #Corona पॉजिटिव महिलाओं की करवाई सुरक्षित डिलीवरी

20 कोरोना पॉजिटिव महिलाओं की डिलीवरी नार्मल और 32 की सिजेरियन हुई

#Himachal का एक अस्पताल, जहां अब तक 52 #Corona पॉजिटिव महिलाओं की करवाई सुरक्षित डिलीवरी

- Advertisement -

मंडी। कोरोना (#Corona) पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं की सुरक्षित डिलीवरी के मामले में श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नेरचौक (Medical College Nerchowk Mandi) ने शानदार काम किया है। यह अस्पताल हिमाचल का इकलौता अस्पताल है, जहां कोरोनाकाल में 52 कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं की सुरक्षित डिलीवरी (Delivery) हुई है। बता दें कि कोरोना के चलते अप्रैल महीने में इस अस्पताल को डेडिकेटिड कोविड अस्पताल में तबदील कर दिया गया था। श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नेरचौक के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जीवानंद चौहान ने यह जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं के मामले में अस्पताल ने शानदार काम किया है। यह प्रदेश का इकलौता अस्पताल है, जहां कोविड-19 से पीड़ित महिलाओं की डिलीवरी करवाई गई हैं।

यह भी पढ़ें: #Himachal में कब तक आ सकती है #Corona _Vaccine, क्या बोले जयराम के मंत्री-जानिए

उन्होंने बताया कि इस अस्पताल (Hospital) में 52 डलीवरी हुई हैं, उनमें 20 कोरोना पॉजिटिव महिलाओं की डिलीवरी नार्मल और 32 महिलाओं की सिजेरियन डिलीवरी हुई है। सभी मामलों में जच्चा-बच्चा बिल्कुल सुरक्षित हैं। हालांकि डिलीवरी के बाद 2 नवजात बच्चों में भी कोरोना के लक्षण मिले थे, जो बाद में ठीक हो गए। उन्होंने कहा कि इस काम में अस्पताल के विशेषज्ञ डॉक्टरों व अन्य सभी सहयोगियों ने बेहतरीन काम किया है। डॉ. जीवानंद चौहान ने कहा कि कोरोनाकाल में प्रदेश के किसी भी अस्पताल में से नेरचौक अस्पताल में कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज भर्ती हुए हैं और सबसे ज्यादा कोविड मरीज इस अस्पताल से ठीक भी हुए हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचलः #Mask ना लगाया तो हो सकती है आठ दिन की जेल, #Drone से रखी जा रही नजर

उन्होंने कहा कि इसमें खास बात ये है कि लोगों ने समय पर कोरोना जांच करवाई और वे समय रहते अस्पताल पहुंचे। रोग का जल्द पता लगने से उनका ईलाज हो सका, जिससे उन्होंने कोरोना की जंग जीती है। डॉ. जीवानंद चौहान ने कहा कि नेरचौक अस्पताल मंडी के साथ साथ कुल्लू (Kullu), बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा और लाहुल-स्पिति के अलावा चंबा के पांगी क्षेत्र के मरीजों को सेवाएं दे रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है