Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

मैक्लोडगंज में मनाई तिब्बतियन डेमोक्रेसी डे की 59 वीं वर्षगांठ, सरवीण रहीं मौजूद

मैक्लोडगंज में मनाई तिब्बतियन डेमोक्रेसी डे की 59 वीं वर्षगांठ, सरवीण रहीं मौजूद

- Advertisement -

धर्मशाला। तिब्बतियन डेमोक्रेसी डे ( Tibetan Democracy Day) की 59 वीं वर्षगांठ को मैक्लोडगंज ( McLeodganj) स्थित चुगलाखंग बौद्धमठ के प्रांगण में निर्वासित तिब्बतियों ने हर्षोल्लासपूर्वक से मनाया। सोमवार को केंद्रीय तिब्बती प्रशासन (Central Tibetan Administration) द्वारा 59 वां डेमोक्रेसी डे धूमधाम से मनाया गया, जिसकी अध्यक्षता शहरी विकास एवं नगर नियोजन मंत्री सरवीण चौधरी (Minister Sarveen Chaudhary) ने की। तिब्बत की पारंपरिक वेशभूषा में चुगलाखंग बौद्धमठ में आयोजित कार्यक्रम में निर्वासित तिब्बतियों ने बढ़चढ़ कर भाग लिया।

यह भी पढ़ें :मनाली से चंडीगढ़ जा रहे दलाईलामा अचानक पहुंचे बिलासपुर, जानिए क्यों


उन्होंने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि सर्वोच्च अध्यात्मिक गुरु दलाईलामा (Dalai Lama) के नेतृत्व में जिस तरह तिब्बतियों ने अपनी धरोहर पारंपरिक संस्कृति व धर्म को संरक्षित कर संजोया है वह विश्व में एक मिसाल है, जिसके लिए तिब्बती समुदाय बधाई का पात्र हैं। तिब्बतियों का एक मजबूत लोकतंत्र है और सर्वोच्च अध्यात्मिक गुरु दलाईलामा द्वारा इसे और मजबूत करने के लिए कदम उठाए गए हैं, निर्वासित तिब्बतियों को भी इस ओर प्रेरित किया है। निर्वासित तिब्बती तिब्बत की आजादी के लिए अंहिसा के मार्ग पर चल कर अपने आंदोलन को आगे बढ़ाए हुए हैं, जिसमें अंतरराष्ट्रीय समुदाय का भी सहयोग उन्हें मिला है। उन्होंने आशा व्यक्त की एक दिन तिब्बतियों का यह आंदोलन सार्थक होगा और उन्हें निर्वासन के जीवन के मुक्ति मिलेगी। मैक्लोडगंज में डेमोक्रेसी डे समारोह पर आमंत्रित करने के लिए उन्होंने केंद्रीय तिब्बती प्रशासन का आभार प्रकट किया।

उन्होंने कहा कि जिस तरह दलाईलामा के नेतृत्व में लोकतंत्र की उच्च मर्यादाओं का पालन कर निर्वासित तिब्बतियों ने इसे आगे बढ़ाया है वह एक सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। इस अवसर पर विभिन्न तिब्बती संस्थानों के छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए। सरवीण ने इस अवसर पर सिक्योंग स्कॉलरशिप अवार्ड से छात्रों को नवाजा तथा डिप्टी सिक्योंग द्वारा सीटीए में 25 वर्ष से कार्यरत कर्मचारियों को भी सम्मानित किया। इससे पूर्व संसद के अध्यक्ष पेमा जुगंने ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा केंद्रीय तिब्बती प्रशासन की गतिविधियों की जानकारी दी। इस अवसर पर तिब्बत निर्वासित सरकार के वित्त मंत्री कर्मा येशी, सुरक्षा मंत्री फाग्पा छेरंग, धर्म एवं सस्कृति मंत्री कर्मा ग्येलेक उपस्थित थे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है