Covid-19 Update

58,877
मामले (हिमाचल)
57,386
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,152,127
मामले (भारत)
115,499,176
मामले (दुनिया)

जब छलक आईं राष्ट्रपति कोविंद की आंखें

जब छलक आईं राष्ट्रपति कोविंद की आंखें

- Advertisement -

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण के बाद एक मौका ऐसा भी आया जब राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद की आंखों पर बरबस आंसू छलक आए। वह मौका था देश के वीर जवान शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को मरणोपरांत सम्मानित करने का। शहीद निराला को मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्मानित किया गया है। शहीद की माता व पत्नी को मंच पर आमंत्रित किया गया।

उस दौरान शहीद निराला के साहसिक कारनामों के बारे में उद्घोषक ने बताना शुरू किया तो राष्ट्रपति कोविंद की आंखें नम हो गई। शहीद की मां व पत्नी को सम्मान प्रदान करने के बाद वे जब कुर्सी पर बैठे तो उनकी आंखें भरी हुई थी। वे रुमाल निकाल कर आंखें पोछने लगे। यह पहली बार है जब भारतीय वायु सेना के किसी गरुड़ कमांडो को अशोक चक्र से सम्मानित किया गया है। गरुड़ कमांडो जेपी निराला कश्मीर के हाजिन में आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हुए थे। वह बिहार के रोहतास के रहने वाले थे। शहीद निराला के परिवार में उनके माता-पिता के अलावा उनकी पत्नी व चार साल की बेटी है।

यह भी पढ़ें: सांस्कृतिक तहजीब का संगम, Rajpath और Spiti का की-गोंपा

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है