×

सांस्कृतिक तहजीब का संगम, Rajpath और Spiti का की-गोंपा

सांस्कृतिक तहजीब का संगम, Rajpath और Spiti का की-गोंपा

- Advertisement -

नई दिल्ली। आज पूरे देश में 69वां गणतंत्र दिवस पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड के दौरान आसियान देशों के प्रतिनिधियों के सामने भारत ने अपनी सैन्य क्षमता का जोरदार प्रदर्शन किया। लेकिन हर बार की तरह इस बार भी परेड का मुख्य आकर्षण रही झांकियां। जिनमें भारत के विभिन्न राज्यों ने अपनी कला व संस्कृति का उत्कृष्ट उदाहरण पेश किया। प्रदेश की गौरवमयी गाथा में एक और स्वर्णिम उस वक्त जुड़ गया, जब हिमाचल प्रदेश की झांकी राजपथ पर आई। परेड के दौरान उपस्थित जनसमूह व सभी गणमान्य ने हिमाचली संस्कृति का तालियों की गड़गड़ाहट के साथ जोरदार स्वागत किया।


परेड में इस बार लाहुल स्पीति जिला के की-गोंपा की झांकी को शामिल किया गया था। की-गोंपा की झांकी में सबसे पहले वैरोचन बुद्धा की मूर्ति बनाई गई , उसके पीछे पहाड़ की आकृति बनाई है। झांकी के साथ-साथ बौद्ध संस्कृति में प्रचलित छम नृत्य पारंपरिक वाद्य यंत्रों के साथ दिखाया गया।

काज़ा से करीब 12 किलोमीटर दूर है की-गोंपा

स्पीति के काजा स्थित की-गोंपा बौद्ध धर्म का प्रतीक है। 13वीं शताब्दी में बना की-गोंपा काज़ा से करीब 12 किलोमीटर दूर है। करीब 13504 फीट की ऊंचाई पर बने इस गोंपा की स्थापना 13वीं शताब्दी में लामा रिंगछेन संगपो ने की थी। ये मठ महायान बौद्ध के जेलूपा संप्रदाय से संबंधित है और घाटी का सबसे बड़ा मठ है। इस गोंपा में प्राचीन हस्तलिपियां और थंगकस के संग्रह के साथ कुछ हथियार भी रखे गए हैं।

मठ पर 19वीं शताब्दी में सिखों तथा डोगरा राजाओं ने आक्रमण किया था। इस मठ में जून-जुलाई में चाम उत्सव मनाया जाता है। जाहिर है कि हिमाचल की ओर से 26 जनवरी के लिए तीन मॉडल भेजे गए थे, जिनमें की-गोंपा, ढ़ंक्खर-मोनास्ट्री और हिमाचल प्रदेश के महासवी देव संस्कृति के मॉडल शामिल थे, लेकिन की-गोंपा का चयन हुआ।

यह भी पढ़ें: Republic Day 2018 : राजपथ पर दिखेगी हिंदुस्तान की ताकत, PM Modi ने देशवासियों को दी बधाई

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है