Expand

SIMI आतंकियों के एनकाउंटर पर सियासत गरमाई

SIMI आतंकियों के एनकाउंटर पर सियासत गरमाई

- Advertisement -

भोपाल। भोपाल सेंट्रल जेल से फरार सिमी के 8 आतंकियों के एनकाउंटर के बात राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई है। सभी विपक्षी पार्टियों ने आतंकियों के एनकाउंटर को लेकर न्यायिक जांच की मांग की है। वहीं, एनकाउंटर के संबंध में वीडियो सामने आने के बाद मध्य प्रदेश की शि‍वराज सिंह चौहान सरकार फंसती नजर आ रही है। वीडियो में गोली मारते और जेब से चाकू निकालने की तस्वीर दिख रही है। इसके बाद आनन-फानन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मामले की जांच एनआईए से कराने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने जेल के पांच अफसरों को निलंबित कर दिया और जेल के अतिरिक्त महानिदेशक को पुलिस मुख्यालय से संबद्ध कर दिया। इससे पहले मुख्यमंत्री ने आठों आतंकवादियों को मार गिराने की पुलिस की कार्रवाई की सराहना की और आतंकवादियों के फरार होने की घटना को चिंताजनक बताया। उन्होंने कहा कि इस मसले पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से फोन पर बात हुई है।

पुलिस का खुलासा

भोपाल के आईजी योगेश चौधरी ने कहा कि एनकाउंटर से जुड़े हर पहलू की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि एनकाउंटर के बाद आतंकियों के पास से 3 चाकू और 2 देसी कट्टे और प्लास्टिक की बनी चाबी मिले हैं। उन्होंने कहा कि एनकाउंटर में मारे गए सभी आतंकी जेल के अलग-अलग बैरक में बंद थे फिर एक साथ कैसे भागे इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि आतंकियों ने जेल में मिली चादरों की रस्सी बनाई, उसी के सहारे वे दीवार फांदी। ये घटना रात करीब 2 से 3 बजे के बीच की है। आतंकियों ने जेल से फरार होने के लिए हेड कॉन्सटेबल रमाशंकर की हत्या के लिए गिलास और स्टील की प्लेट को हथियार बनाया था।

कमलनाथ ने मांगी न्यायिक जांच

एनकाउंटर मामले पर कांग्रेसी नेताओं ने सवाल उठाए हैं। सीनियर कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि सिमी कार्यकर्ता अत्यंत सुरक्षा वाली जेल से भाग गए और कुछ घंटे के अंदर उन्हें न केवल खोज लिया गया, बल्कि एनकाउंटर दिया गया। अब उनसे पूछताछ नहीं की जा सकती, कोई सबूत नहीं है, उनके बयान रिकॉर्ड नहीं किए जा सकते। उन्होंने न्यायिक जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकार को भी पता चलना चाहिए कि वे किन परिस्थितियों में भागे। साथ ही राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी जांच की मांग की है। दिग्विजय एनकाउंटर पर सवाल उठाते हुए कहा कि आतंकी जेल से भागे या भगाए गए।

ओवैसी ने उठाए सवाल

एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भोपाल सेंट्रल जेल से सिमी सदस्यों के भागने और बाद में पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने की जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के गृह मंत्री और पुलिस के बयान किसी भी तर्कसंगत शख्स के गले नहीं उतर सकते। ओवैसी ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट को इस पर जांच बिठानी चाहिए। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि जेल से फरार कैदी अच्छी तरह से कपड़े पहने कैसे हो सकते हैं? उनके पास तो हथियार भी नहीं थे, वो सिर्फ कुछ धातु की चीजें लिए हुए थे जो हथियार जैसी नहीं हो सकती हैं।

bhopalभोपाल सेंट्रल जेल से भागे सभी 8 आतंकी मार गिराए

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस ने भोपाल की सेंट्रल जेल भागे सिमी के सभी 8 आतंकियों को मार गिराया है। पुलिस ने जेल से करीब 12 किमोमीटर दूर इन आतंकियो को ढेर किया है। इन सभी आतंकियों को खेजरा गांव में घेरकर मार गिराया गया। ये आतंकी द स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया यानी सिमी के सदस्य थे। आतंकियों को पुलिस ने पहले आत्मसमर्पण के लिए कहा, और जब उन्होंने सरेंडर करने से इनकार किया तो मार गिराए गए।bhopal-1

  • इससे पहले आज तड़के इन 8 आतंकियों ने जेल के प्रधान आरक्षक रमाशंकर का गला रेतकर हत्या कर दी और फिर ओढ़ने वाली चादर को रस्सी बनाकर दीवार फांदी और जेल से भाग निकले थे।

भागने से पहले इन आतंकियों ने एक पुलिस वाले के हाथ पैर भी बांध दिए थे।  जो 8 आतंकी भागे थे उनमें से तीन आतंकवादियों ने तीन बम धमाके किए थे और एक बैंक लूटा था जिसका इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों में किया था।

इस घटना में जेल प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है, इस मामले की गंभीरता को देखते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जेल अधीक्षक सहित जेल के पांचों बड़े अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है।

ये सभी आतंकी मध्यप्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र के रहने वाले थे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है