Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

Goa से पहुंचे तीन जिलों के 865 लोग, स्वास्थ्य जांच के बाद किए Quarantine

Goa से पहुंचे तीन जिलों के 865 लोग, स्वास्थ्य जांच के बाद किए Quarantine

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी। कांगड़ा, चंबा, बिलासपुर और कुल्लू के 865 लोग गोवा (Goa) से हिमाचल पहुंचे। यह लोग ऊना तक स्पेशल ट्रेन में पहुंचे और ऊना से एचआरटीसी की स्पेशल बसों में अपने-अपने जिला में प्रवेश किए। संबंधित जिला प्रवेश द्वारा पर मेडिकल जांच कर क्वारंटाइन (Quarantine) में भेजा गया। इसमें कांगड़ा, बिलासपुर और कुल्लू में गोवा से आए लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन में रखा है। वहीं, चंबा में होम क्वारंटाइन में भेजे हैं।

चंबा में पहुंचे लोगों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटाइन में रखा

चंबा। कुल 128 लोग आज चंबा जिला की सीमा में प्रवेश कर गए। डीसी एवं जिला मजिस्ट्रेट विवेक भाटिया ने बताया कि जिला के एंट्री प्वाइंट पर सभी की स्क्रीनिंग (Screening) की गई। इसके बाद उन्हें निगम की बसों (Bus) के जरिए उनके गंतव्य स्थानों के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि इन 128 में सर्वाधिक 54 लोग चंबा उपमंडल के हैं। जबकि भटियात के 51, डलहौजी के 14, भरमौर के 6, चुराह का 1 व सलूणी उप मंडल के 2 व्यक्ति इसमें शामिल हैं।


डीसी ने बताया कि इन सभी लोगों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटाइन किया जा रहा है। यह सभी लोग गोवा से आए हैं और गोवा ग्रीन जोन में आता है। इसलिए इन्हें संस्थागत क्वारंटाइन के जगह होम क्वारंटाइन में रहना होगा। विवेक भाटिया ने जानकारी देते हुए बताया कि चंबा जिला में इस समय कुल 55 बफर क्वारंटाइन सुविधाएं मौजूद हैं। इनमें से 37 वर्तमान में एक्टिव हैं और इनमें 797 व्यक्ति रह रहे हैं। इस समय चंबा जिला में उपलब्ध संस्थागत क्वारंटाइन में 2366 लोगों को रखने की क्षमता मौजूद है और इसे और भी बढ़ाया जा रहा है।

बिलासपुर में पहुंचे 23 लोग

बिलासपुर। रेल के माध्यम से गोवा से हिमाचल लाए गए लोग आखिरकार शुक्रवार सुबह पहुंच गए। पूरे स्वास्थ्य मानकों को पूरा करने के बाद इन लोगों को संबंधित जिलों के लिए रवाना किया गया। जिनमें से बिलासपुर जिला के भी 23 लोग यहां पर पहुंच चुके हैं, जिनको एचआरटीसी बस के माध्यम से बिलासपुर लाया गया है। इन लोगों को नर्सिंग संस्थान क्वारंटाइन सेंटर चांदपुर में रखा गया है।

गोवा से आए 315 नागरिकों को सत्संग भवन परौर में रखे

कांगड़ा। डीसी राकेश प्रजापति ने कहा कि जिला के सभी प्रवेश नाकों पर बाहर से आने वाले लोगों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है तथा रेड जोन (Red Zone) से आने वाले नागरिकों को संस्थागत क्वांरटाइन केंद्रों पर भेजा जा रहा है। इसके साथ बाहर से आए जिन नागरिकों में फ्लू के लक्षण पाए जा रहे हैं, उनको भी संस्थागत क्वांरटाइन किया जा रहा है। शुक्रवार को गोवा से आए 315 नागरिकों को सत्संग भवन परौर में संस्थागत क्वारंटाइन के लिए रखा गया है।

18 बसों में कुल्लू व लाहुल स्पीति पहुंचे 399 लोग

कुल्लू। कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण लॉकडाऊन के चलते गोवा में फंसे हिमाचलियों को अपने राज्यों में वापस लाया गया, जिसमें गोवा से ऊना पहुंची ट्रेन में कुल्लू जिला व लाहुल स्पीति के 399 लोगों को 18 परिवाहन निगम की बसों में कुल्लू पहुंचाया। जहां पर कुल्लू जिला की सीमा पर सभी व्यक्तियों का प्रारंभिक थर्मल स्कैनिंग व एंट्री कर खाने पीने के फूट पैकेट और पानी की बोतल देकर सभी लोगों को 3 क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) में भेजा गया जिसमें वैष्णों माता मंदिर में 15 महिलाओं को रखा गया। इसके अलावा 3 सौ लोगों को जवाहर नवोदय विद्यालय बंदरोल और करीब 70 लोगों को अटल बिहारी मांउटेनिंग इंस्टीच्यूट अलेऊ में भेजा गया। एसडीएम कुल्लू अनुराग चंद्र शर्मा ने बताया कि जिला कुल्लू में गोवा से स्पेशल ट्रेन के द्वारा सुबह उना पहुंची थी।

यह भी पढ़ें: कुमारसैन में क्वारंटाइन के उल्लंघन पर Bus Driver के खिलाफ FIR

ऐसे में यहां पर जिला कुल्लू के 399 लोग आज कुल्लू पहुंच चुके हैं, जिसके लिए 18 बसों में इन लोगों को कुल्लू लाया गया। इसमें 397 कुल्लू जिला के और 2 व्यक्ति लाहुल स्पीति के हैं। इन सब लोगों का बजौरा में मेडिकल चेकअप किया जा रहा है और इनके खाने पीने की व्यवस्था भी प्रशासन के द्वारा की गई है। इनको पानी की बोतल और पैकिंग फूड पैकेट दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि जवाहर नवोदय विद्यालय के हॉस्टल और अटल बिहारी वाजपेयी माउटेनिंग इंस्टीच्यूट मनाली में रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि एमएचए के की गाइडलाइन के हिसाब से सभी लोगों के रहने खाने-पीने व शौचालय की उचित व्यवस्था की है। सभी संस्थागत सेंटर में सोने के लिए साफ बिस्तर लगाया गए हैं और शौचालय के साथ सभी को नहाने व हाथ धोने के लिए अलग-अलग साबुन दिए गए हैं।  एमएचए के द्वारा दिए गए निर्देशों के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल के अनुसार इनके चार-पांच दिन के भीतर सैंपल लिए जाएंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है