Covid-19 Update

58,457
मामले (हिमाचल)
57,233
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,045,587
मामले (भारत)
112,852,706
मामले (दुनिया)

बच्चा रोए तो समझो वास्तु ठीक नहीं 

बच्चा रोए तो समझो वास्तु ठीक नहीं 

- Advertisement -

आपके नए घर  का वास्तु सही है या गलत, यह जानने का सबसे अच्छा तरीका है कि किसी भी नवजात शिशु को अपने नए घर में ले जाएं। अगर वह शिशु वहां घुसते ही रोता है तो इसका मतलब है कि उस घर का वास्तु ठीक नहीं है या वहां पर नकारात्मक ऊर्जा अधिक है जो आपके लिए अच्छी नहीं है। 
अगर शिशु घर में घुसते ही हंसता या मुस्कराता है तो उस घर में सभी कुछ सही है। साथ ही, यदि आप उस घर में अकेले जाने पर अजीब सा महसूस करते हैं, आपका दम घुटने लगता है तो भी घर में वास्तु दोष हो सकता है। कई बार ऐसा भी होता है कि घर का वास्तु पूरी तरह से सही होता है फिर भी वहां जाने पर अजीब सा लगता है। कई बार ऐसे घरों में बिना कारण ही दम सा घुटने लगता है, इसका कारण वहां पर मौजूद नकारात्मक ऊर्जा होती है। इसका कारण घर के इतिहास में छिपा हो सकता है।
संभव है उस घर में किसी ने आत्महत्या की हो, या किसी की हत्या हुई हो। इसके अलावा वहां घर बनने से पहले कोई श्मशान, कब्रिस्तान या फिर कोई अन्य प्राचीन भुतहा इमारत हो। कई बार घरों में भूत-प्रेतों की उपस्थिति में भी ऐसा अनुभव होता है।इसके अलावा यदि घर के रहने वाले अनैतिक आचरण करते हों अथवा वहां पर पैशाचिक साधनाएं की गई हों तो भी घर का वास्तु सही होने के बावजूद वहां नकारात्मक ऊर्जा विद्यमान होती है। इन सभी स्थितियों में घर का वास्तु सही करवाने की आवश्यकता होती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है