×

खुद को हमले से बचाने के लिए एक मेंढक करता है जहरीले सांप की नकल

खुद को हमले से बचाने के लिए एक मेंढक करता है जहरीले सांप की नकल

- Advertisement -

नई दिल्ली। एक जर्नल में छपे अध्ययन के अनुसार, एक मेंढक (Frog) खुद को हमले से बचाने के लिए दिखने और व्यवहार दोनों मामलों में अफ्रीका के सबसे बड़े जहरीले सांप (poisonous snake) की नकल (Mimic) कर सकता है। दरअसल, मेंढक इसके लिए ‘गैबून वाइपर’ सांप की नकल करता है जिसके पास बाकी सांपों के मुकाबले अधिक विष उत्पन्न करने वाले सबसे लंबे दांत होते हैं। बता दें कि वाइपर में दुनिया का सबसे लंबा सांप होता है और यह किसी भी अन्य सांप की तुलना में अधिक जहर पैदा करता है। अध्ययन दस साल के फील्डवर्क पर आधारित है और शोधकर्ताओं द्वारा प्रत्यक्ष अवलोकन पर है जो कि मेंढक के व्यवहार को देखने के लिए पर्याप्त भाग्यशाली हैं।


यह बेट्सियन मिमिक्री का एक उदाहरण है, जहां एक हानिरहित प्रजाति शिकारियों को शिकार होने से बचाती है। शोधकर्ताओं ने मध्य अफ्रीकी वर्षावनों में पाए जाने वाले मेंढक की उपस्थिति और वाइपर के बीच तुलना की, जो मध्य, पूर्वी और दक्षिणी अफ्रीका में अधिक व्यापक है। जीवित जंगली-पकड़े और बंदी नमूनों, साथ ही संरक्षित संग्रहालय वाले का उपयोग करते हुए, उन्होंने पाया कि मेंढक के शरीर का रंग पैटर्न और आकार वाइपर के सिर के समान है। अधिकांश हड़ताली दो गहरे भूरे रंग के धब्बे और गहरे भूरे रंग की धारी होती हैं जो शरीर के निचले हिस्से में फैली हुई होती हैं।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है