×

Rewari में बारात का इंतजार करते रह गए लड़की वाले

Rewari में बारात का इंतजार करते रह गए लड़की वाले

- Advertisement -

रेवाड़ी। दहेज लोभियों की मनमानी के कारण एक बार फिर एक लड़की की डोली उठने से रह गई। एक ओर जहां बारात के स्वागत की सभी तैयारियां पूरी  हो गईं थी, लोग दूल्हे के दीदार का इंतजार में थे कि अचानक खबर आई कि दूल्हा फरार हो गया है, यह सुनकर सभी के होश उड़ गए। हम आपको किसी फिल्म की कहानी नहीं सुना रहे, बल्कि यह घटना है रेवाड़ी जिले के गांव ततारपुर इस्तमुरार की, जहां बीते 15 फरवरी को एेसा ही हुआ। ततारपुर गांव के रहने वाले राजपाल ने अपनी बेटी का रिश्ता गुरुग्राम जिले के गांव खेड़ा खुर्मपुर निवासी प्रदीप के साथ किया था। करीब दो वर्ष तक चले इस रिश्ते के बाद गत 15 फरवरी की शादी तय हुई, जिसे लेकर 13 फरवरी को वधु पक्ष के लोग लगन लेकर दूल्हे के घर गए।


  • दहेज के लोभियों ने ऐन मौके पर शादी करने से किया मना
  • मांग पूरी नहीं होने पर दूल्हा हुआ फरार
  • ​परिजनों ने पुलिस पर लगाया मिलीभगत का आरोप, 3 दिन बाद दर्ज किया केस

पूरे रीति-रिवाज के मुताबिक सभी रस्में पूरी की गईं। वधु पक्ष ने भी घर वापस आकर बारात की तैयारियां शुरू कर दी। 15 फरवरी को दुल्हन के हाथों में मेहंदी लगी और बारात के स्वागत की सभी तैयारियां पूरी की गई। मगर एेन वक्त पर दूल्हा पक्ष की ओर से खबर आई कि दूल्हा फरार हो गया है और वे नहीं आ सकते। एेसे में न केवल बारात के स्वागत की सभी तैयारियां बेकार हो गईं, बल्कि यह खबर सुनकर सभी के होश उड़ गए और सोलह श्रृंगार के साथ सजी दुल्हन व उसके चाचा ने खुदखशी करने की ठान ली। कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने जैसे-तैसे दोनों को समझाया और घटना की सूचना पुलिस को दी गई। परिजनों की मानें तो दो दिनों तक पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की और मामले को लटकाए रखा। आखिरकार दोनों पक्षों को पुलिस चौकी में बुलाया गया और इतना बड़ा मामला होने के बावजूद दोनों पक्षों में समझौता कराने की कोशिश की गई।

मगर भारी दबाव के बाद पुलिस ने 3 दिन बाद केस तो दर्ज कर लिया, लेकिन अभी तक वर पक्ष की ओर से न तो कोई गिरफ्तारी हो सकी है और न ही कोई ठोस कार्रवाई अमल में लाई गई है,जिसे लेकर वधु पक्ष में पुलिस विभाग के प्रति भारी रोष है। परिजनों का आरोप है कि पुलिस आरोपियों से मिली हुई है और मामले को रफा-दफा करने का प्रयास कर रही है। साथ ही उन पर समझौते के लिए दबाव भी बनाया जा रहा है। वहीं इस मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि केस दर्ज कर लिया गया है।मामले की गहनता से जांच की जा रही है। जांच के बाद ही कोई कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। एेसे में बड़ा सवाल यह है कि एक ओर देश व प्रदेश की सरकारें दहेज लोभियों के खिलाफ सख्त रूख अपना रही हैं, वहीं अधिकारी हैं कि दहेज के एेसे दानवों पर कोई कार्रवाई करने से बचते हुए नजर आ रहे हैं। अब देखना यह होगा कि क्या पुलिस पीड़ित पक्ष को न्याय दिलवा पाएगी या फिर कुछ दिनों के बाद इस मामले को यूं ही ठंडे बस्ते में डाल दिया जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है