Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,624,419
मामले (भारत)
232,000,738
मामले (दुनिया)

#TamilNadu के तट से आज टकराएगा भीषण चक्रवाती तूफान “Nivar”, मचा सकता है भारी तबाही

145-150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से आ सकता है तूफान

#TamilNadu के तट से आज टकराएगा भीषण चक्रवाती तूफान “Nivar”, मचा सकता है भारी तबाही

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना के रूप में जमीन पर आफत पहले से ही थी, अब एक और आफत समुद्र और आसमान से आने वाली है। बंगाल की खाड़ी में सक्रीय हुआ तूफान निवार आज तमिलनाडु (Tamil Nadu) के तट से टकराने वाला है। बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिम खाड़ी पर स्थित चक्रवाती तूफ़ान Nivar अगले 12 घंटों के दौरान एक भीषण चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। ये तूफन भारी तबाही मचा सकता है। मौसम विभाग (Meteorological Department) की मानें तो आज शाम 5.30 से पहले 145-150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तूफान आ सकता है, लेकिन इससे देरी हुई तो तूफान कमजोर पड़ेगा और लोगों को राहत मिलेगी। फिलहाल तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश और पुडुचेरी में तूफान से पहले बारिश हो रही है। वहीं, चेन्नई में जारी भारी बारिश की वजह से कई जगह पर भारी जलभराव हो गया है।

 

 

किरण बेदी ने लोगों से की घरों में रहने की अपील

पुडुचेरी की एलजी किरण बेदी ने लोगों से घर में रहने की अपील की है। पुड्डुचेरी के सीएम नारायण सामी ने कहा है कि साइक्लोन आज शाम से तटीय इलाकों को छुएगा। हमने लोगों को सुरक्षित जगह रहने को कहा है। मैंने पीएम मोदी से कल बात की थी उन्होंने पूरी मदद का भरोसा दिया है।

 

 

चेन्नई (Chennai) में कुल 129 राहत शिविर बनाए गए हैं, वहीं 8 राहत केंद्रों पर पहले से ही 312 लोग शरण लिए हुए हैं। तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश और पुडुचेरी के तटीय इलाकों में बारिश कल से शुरू हो चुकी है, जन-जन तक चेतावनी पहुंचाई जा चुकी है। ये तूफान आज शाम 5.30 बजे से पहले कभी भी मामलापुरम और कैराकल के बीच तट से टकराएगा। तूफान के आने से पहले सेटेलाइट्स को जो संदेश मिल रहे हैं उसके मुताबिक हवाओं की गति 100 किलीमीटर से ऊपर तो रहेगी ही रहेगी, ये करीब-करीब 150 किलोमीटर प्रतिघंटा तक जा सकती है।

 

 

तमिलनाडु में कहीं झमाझम बारिश जारी है, तो कहीं बादल छाए हैं। मछुवारे अपनी-अपनी नावों को बाहर निकाल चुके हैं, मछुवारों के साजो सामानों को सुरक्षित ठिकानों तक ले जाने के लिए जेसीबी की भी मदद ली जा रही है। इस साल बंगाल की खाड़ी मानों बवाल बन गई है, इसी साल 21 मई को अम्फान तूफान बंगाल की खाड़ी से ही उठा था, तब नुकसान पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में ज्यादा हुआ था। इस बार तूफान के निशाने पर तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, पुडुचेरी और तेलगंना है। लोगों को जागरुक किया जा चुका है, पर्यटकों को सुरक्षित स्थानों पर लौट जाने के संदेश दिए जा चुके हैं। एनडीआरफ ने तीनों राज्यों में अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है