Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

काम पर लौटने वाले सरकारी और निजी कर्मचारियों के लिए अनिवार्य हुआ Aarogya Setu ऐप

काम पर लौटने वाले सरकारी और निजी कर्मचारियों के लिए अनिवार्य हुआ Aarogya Setu ऐप

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच लागू देशव्यापी लॉकडाउन को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने 2 हफ्ते के लिए आगे बढ़ा दिया है। अब पूरेस देश में 17 मई तक लॉकडाउन (Lockdown) जारी रहेगा। हालांकि, इस दौरान देश के अलग-अलग इलाकों में जोन के हिसाब से वहां रहने वाले लोगों को राहत और ढील दी गई है। जिसके बाद अब सरकार ने निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के सभी कर्मचारियों के लिए कोविड-19 कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग ऐप ‘आरोग्य सेतु’ (Covid-19 Contact Tracing App ‘Arogya Setu’) का इस्तेमाल अनिवार्य कर दिया है। सरकार के अनुसार, ‘यह सुनिश्चित करना संबंधित संगठनों के प्रमुखों की ज़िम्मेदारी होगी कि उनके 100% कर्मचारियों के पास यह ऐप हो।’

यह भी पढ़ें: Punjab: एक और पुलिसकर्मी पर जानलेवा हमला, नाके पर रोका तो ASI को बोनट पर 50 मी. घसीटा

अभी तक इस ऐप को 8 करोड़ से अधिक लोग डाउनलोड कर चुके हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने यह भी कहा है कि कोविड-19 कंटेनमेंट ज़ोन में रह रहे लोगों के लिए भी आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप इस्तेमाल करना जरूरी होगा। हालांकि, यह बात साफ नहीं है कि यह आदेश इन इलाकों में रहने वाले निवासियों पर भी लागू होगा या केवल दफ्तर और काम की जगहों पर उपयुक्त है। भारत एकमात्र देश है जहां कोरोना कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग ऐप्लीकेशन के डाउनलोड को इस स्तर पर अनिवार्य किया गया है। बता दें कि मोबाइल ऐप आरोग्य सेतु कोविड-19 के खतरे से अलर्ट रहने में यूजर की मदद करता है। इसके साथ ही यह लोगों को जरूरी जानकारी, कोरोना के संक्रमण से बचने के तरीके और लक्षण के बारे में भी जानकारी देता है।


आरोग्य सेतु ऐप को गूगल प्ले स्टोर से डायरेक्ट डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है