Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,526,622
मामले (भारत)
196,707,763
मामले (दुनिया)
×

यहां मिल रहा है हवा से सोखा गया पीने का पानी, जानें क्या है खास

यहां मिल रहा है हवा से सोखा गया पीने का पानी, जानें क्या है खास

- Advertisement -

हैदराबाद। तेलंगाना (Telangana)के सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन (Railway Station)के प्लेटफार्म नंबर एक हवा से बनाया गया पानी मिल रहा है। इस पानी को एक ख़ास तरह की तकनीक से बनाया जाता है। जिसे मेघदूत के नाम से जाना जाता है। इस बॉटल की कीमत आठ रुपए है लेकिन अगर ग्राहक अपनी बॉटल में पानी लेता है तो उसे पांच रुपए देने होते हैं। हवा से पानी कैसे निकलता है ये सोच कर आप भी कुछ असमंजस में होंगे ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कि किस तरह से हवा से पानी निकाल कर उसे बेचा जाता है।
मेघदूत तकनीक को मैत्री एक्वाटेक ने ‘मेक इन इंडिया’ (Make In India) के तहत विकसित किया है। हर मौसम में काम कर सकती है। मशीन हवा से सीधे पानी सोखती है और कई चरणों से गुजरने के बाद पानी टैंक में जमा होता है।
इस तरह बनता है हवा से पानी
सबसे पहले हवा का बहाव मशीन से गुजरता है, जहां उसमें मौजूद डस्ट पार्टिकल समेत दूसरे प्रदूषक तत्वों को सोख लिया जाता है।
मशीन से छनकर निकलने वाली हवा सीधे कूलिंग चैंबर में जाती है, जहां इसे अत्यधिक (कंडेंस) ठंडा किया जाता है। यहीं कंडेस्ड एयर पानी की बूंद में बदलती है। इसके बाद बूंद-बूंद जमा होती है।
जमा हुआ पानी भी कई स्तर पर फिल्टर होता है। इससे पानी में मौजूद दूसरे प्रदूषक तत्व हट जाते हैं और पानी शुद्ध हो जाता है।
इस पानी को भी अल्ट्रा यूवी-रे वाले सिस्टम से गुजारा जाता है। इसके बाद पानी पीने लायक हो जाता है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है