Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

सहकारी सभा के खाताधारकों ने की नारेबाजी, उग्र आंदोलन को चेताया

सहकारी सभा के खाताधारकों ने की नारेबाजी, उग्र आंदोलन को चेताया

- Advertisement -

बिलासपुर। घुमारवीं विधान सभा के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत पपलाह द करलोटी कृषि सेवा सहकारी सभा सीमित में हुए करोड़ों रुपए के घोटाले को लेकर खाताधारकों ने सरकार व विभाग के खिलाफ नारेबाजी की। खाताधारकों ने आम सभा का आयोजन किया, जिसकी अध्यक्षता संघर्ष समिति पपलाह के प्रधान कुलदीप सिंह मनकोटिया ने की। संघर्ष समिति के प्रधान कुलदीप सिंह मनकोटिया ने जानकारी देते हुए बताया कि सहकारी सभा करलोटी को बदलकर अब पपलाह पंचायत के गांव पपलाह खोला गया है, जबकि सहकारी सभा का सब डिपो माकड़ा में लोगों को सेवा प्रदान कर रहा है। प्रधान ने बताया कि सहकारी सभा पपलाह में 1200 के लगभग खाताधारक हैं, जिन्होंने अपनी गाढ़ी कमाई सहकारी सभा पपलाह में जमा करवाई है, जिसका मूलधन पांच करोड़ 85 लाख है और ब्याज सहित 8 करोड़ 10 लाख बन चुका हैं।

 


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी News का Whats App Group … …

 

जब खाताधारक अपना पैसा निकालने सभा के कार्यलय में चक्कर लगाते लगाते थक गए तो इसकी शिकायत एआरओ बिलासपुर को की।  उन्होंने जांच के लिए जिला निरीक्षक को भेजा। जांच के उपरांत निरीक्षक ने कहा था कि सहकारी सभा के पदाधिकारियों की प्रॉपटी बेच कर खाताधारकों को पैसे दिए जाएंगे। हैरानी तो इस बात की रही कि आज तक कुछ नहीं मिला। संघर्ष समिति पपलाह ने कहा कि अगर विभाग 15 दिन तक करवाई नहीं करता है तो 1200 खाताधारक संघर्ष का रुख अख्तियार करेंगे और सड़क पर उतरने मजबूर होंगे।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है