×

बाबरी फैसले पर #Advani ने लगाया ‘जय श्री राम’ का नारा, जानें अन्य नेताओं की क्या रही प्रतिक्रिया

 केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद आडवाणी के आवास पर उनसे मिलने पहुंचे

बाबरी फैसले पर #Advani ने लगाया ‘जय श्री राम’ का नारा, जानें अन्य नेताओं की क्या रही प्रतिक्रिया

- Advertisement -

नई दिल्ली। लखनऊ में विशेष सीबीआई अदालत ने 28 साल बाद बुधवार को बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती समेत 32 लोगों को अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले (Babri Masjid demolition case) में आपराधिक साज़िश के आरोपों से बरी कर दिया। फैसला सुनाते हुए सीबीआई की विशेष अदालत ने कहा कि यह कार्रवाई पूर्वनियोजित नहीं बल्कि अचानक हुआ कृत्य था। कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी करते हुए कहा कि उनके खिलाफ निर्णायक सबूत उपलब्ध नहीं थे। वहीं, इस मामले पर फैसला आने के बाद इस पर प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई है। बीजेपी के नेताओं द्वारा कोर्ट के इस फैसले पर खुशी जताई जा रही है।


यह भी पढ़ें: बाबरी विध्वंस फैसला: आडवाणी, जोशी, उमा सहित सभी 32 आरोपी बरी; पूर्वनियोजित नहीं थी घटना

इसी कड़ी में बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में बरी होने के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी (Lal Krishna Advani) ने कहा है, ‘मैं स्पेशल कोर्ट के निर्णय का तहे दिल से स्वागत करता हूं।’ बकौल आडवाणी, ‘इस फैसले से राम जन्मभूमि आंदोलन के प्रति मेरे व्यक्तिगत और बीजेपी के विश्वास व प्रतिबद्धता का पता चलता है।’ उन्होंने ‘जय श्री राम’ (Jai Shri Ram) का नारा लगाते हुए फैसले का स्वागत किया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अब उन्हें अयोध्या में हो रहे राम मंदिर के निर्माण के पूरे होने का इंतजार है। वहीं, केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद आडवाणी के आवास पर उनसे मिलने पहुंचे। इससे पहले आडवाणी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए कोर्ट की कार्यवाही में शामिल हुए थे।

जोशी-राजनाथ और सीएम योगी ने भी किया फैसले का स्वागत

आडवाणी के अलावा मामले में बरी होने के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी (Murli Manohar Joshi) ने कोर्ट के फैसले को ऐतिहासिक बताया है। जोशी ने कहा, ‘इससे साबित होता है कि अयोध्या में 6 दिसंबर की घटना में कोई साज़िश नहीं हुई थी। हमारा कार्यक्रम और रैलियां किसी साज़िश का हिस्सा नहीं थीं।’ वहीं, केन्द्रीय रक्षा मंत्री द्वारा भी अदालत के इस फैसले का स्वागत किया गया है। इसे लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने ट्वीट किया है, ‘लखनऊ की विशेष अदालत द्वारा श्री लालकृष्ण आडवाणी, श्री कल्याण सिंह, मुरली मनोहर जोशी, उमा जी (उमा भारती) समेत 32 लोगों के किसी भी षड्यंत्र में शामिल ना होने के निर्णय का स्वागत करता हूं।’ वहीं, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसे लेकर ट्वीट किया, ‘सत्यमेव जयते।’

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है