Covid-19 Update

2, 84, 964
मामले (हिमाचल)
2, 80, 747
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,125,370
मामले (भारत)
523,559,119
मामले (दुनिया)

पांच लाख में महिला की मूर्ति लाया था कपल, 20 साल बाद राज खुला तो उड़े सबके होश

ब्रिटिश कपल को अपना गार्डन सजाने का है शौक, हर जगह मूर्तियां ही मूर्तियां

पांच लाख में महिला की मूर्ति लाया था कपल, 20 साल बाद राज खुला तो उड़े सबके होश

- Advertisement -

घर (Home) को सजाने के लिए कई बार लोग पुरानी से पुरानी चीज खरीदकर ले आते हैं। एक कपल को भी पुरानी मूर्तियों (Old Statues) से ऐसा ही प्यार था और 20 साल पहले अपने गार्डन को सजाने के लिए यह कपल एक मूर्ति ले आया। तब कपल ने इस मूर्ति को मात्र 5 लाख में खरीदा था। हालांकि अब जब इस मूर्ति की सच्चाई सामने आई है, तो कपल के होश उड़ गए हैं।

यह भी पढ़ें- क्या होगा अगर 31 मार्च से पहले पैन- आधार को लिंक नहीं कराया, यहां पढ़े

5 लाख में खरीदी थी मूर्ति

डेली स्टार (Daily Star) की रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिटिश कपल ने 20 साल पहले अपने गार्डन को सजाने की योजना बनाई। इसके लिए वह बाजार से सफेद रंग की एक पुरानी और अर्धनग्न मूर्ति खरीद लाया। इस मूर्ति में एक महिला बनी नजर आ रही है, जो पत्थर पर सिर रख लेटी हुई दिख रही है। मूर्ति में महिला (Woman) उदास सी लेटी हुई दिखाई पड़ रही है। इसे कपल ने 5 लाख रुपए में खरीदा था। अब 20 साल बाद इस मूर्ति की सच्चाई सामने आई है। दरअसल, कपल के गार्डन (Garden) में कई साल से मूर्ति लगी हुई थी। इस दौरान जो भी उनके गार्डन में आता था, वह कहता था कि यह बहुत अनोखी मूर्ति (Unique Idol) है। इसके बाद कपल ने मूर्ति की जांच एक्सपर्ट से करवाने के बारे में सोचा। एक्सपर्ट ने जब इस मूर्ति की जांच की तो वह भी हैरान रह गए। यह कोई ऐसी-वैसी मूर्ति नहीं थी, बल्कि इटली (Italy) के महान नियो क्लासिकल आर्टिस्ट एंटोनियो कैनोवा (Neo classical artist Antonio Canova) की एक मास्टरपीस मूर्ति थी।

50 से 80 करोड़ रुपए है कीमत

एंटोनियो कैनोवा (Antonio Canova) ने इस मूर्ति को 200 साल पहले साल 1800 के आसपास बनाई थी। इस मूर्ति की कीमत एक्सपर्ट ने 50 करोड़ से 80 करोड़ तक लगाई है। एक्सपर्ट के अनुसार, यह मूर्ति मैरी मैगडेलिन (Mary Magdalene) की है। मैरी मैगडेलिन ईसा मसीह की अनुयायी थीं। इस मूर्ति को सबसे पहले पूर्व ब्रिटिश प्राइम मिनिस्टर लॉर्ड लिवरपूल ने साल 1819 में कमिशन किया था। इस मूर्ति को अब 7 जुलाई को बेचा जाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है