Covid-19 Update

1,37,766
मामले (हिमाचल)
1,02,285
मरीज ठीक हुए
1965
मौत
22,992,517
मामले (भारत)
159,607,702
मामले (दुनिया)
×

21 साल की सरकारी नौकरी के बाद न पेंशन मिली न चिकित्सा लाभ

21 साल की सरकारी नौकरी के बाद न पेंशन मिली न चिकित्सा लाभ

- Advertisement -

कांगड़ा। वो 21 साल तक सरकारी नौकरी (Government job) करके रिटायर भी हो गया पर न ही तो उसे पेंशन मिल पाई न ही चिकित्सा लाभ। लंबी लड़ाई लड़ने के बाद उन्हें ग्रेच्युटी तो मिल गई पर पेंशन (Pension) आज दिन तक नहीं मिल पाई। 73 साल के ओम प्रकाश वर्ष 1983 में दैनिक वेतन भोगी के रूप में लोक निर्माण विभाग उपमंडल नूरपुर (Nurpur) में बतौर मोटर मेट भर्ती हुए। वर्ष 1993 के दौरान उनका सेवाकाल 10 साल दैनिक वेतन भोगी के रूप में हो गया तो 1994 में उन्हें रेगुलर किया जाना था पर विभाग ने उन्हें रेगुलर किया 1995 में, यानी एक साल देरी की वजह यह बताई की 1984 में इन्होंने 365 दिन कार्य नहीं किया है इस वजह से इन्हें 1995 से रेगुलर किया गया है।


यह भी पढ़ें  :  निजी क्षेत्र के काम करने वालों की बल्ले-बल्ले, पेंशन में होगी बंपर बढ़ोतरी, पढ़ें पूरी खबर

ओमप्रकाश का कहना है कि 1984 में इन्होंने पूरा साल काम किया है और बाकायदा मस्ट्रोल के तहत सैलेरी (Salary) भी ली है। वर्ष 1995 से इन्हें सुपरवाइजर पक्का किया गया और 30 अप्रैल, 2004 को यह महज 9 साल 4 माह की रेगुलर नौकरी के बाद रिटायर हो गए। महज आठ माह कम नौकरी की वजह से इन्हें पेंशन नहीं मिल पाई, जबकि इनके अनुसार इन्हें एक साल देरी से पक्का किया गया। इस विषय में 2003 में इन्होंने केस भी दायर किया जिसके तहत इन्हें एक साल की ग्रेच्युटी (Gratuity) तो मिल गई पर पेंशन फिर भी विभाग ने नहीं दी, अपितु विभाग ने इन्हें मेडिकल बिलों का भुगतान भी यह कह कर टाल दिया कि जब आपको पेंशन नहीं है तो मेडिकल बिल (Medical bill) कैसे मिल सकते हैं। ओम प्रकाश जिला कांगड़ा की तहसील नूरपुर के गांव कुखेड़ के रहने वाले हैं। उन्हें आज भी उम्मीद है कि उनका हक उन्हें मिलेगा।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है