33 साल बाद पांगी में ऐसे हालात, न बिजली और न पानी, रोड भी बंद

सीएम से हवाई उड़ानों की उम्मीद छोड़ मुख्य मार्ग खोलने की सीएम से मांग

33 साल बाद पांगी में ऐसे हालात, न बिजली और न पानी, रोड भी बंद

- Advertisement -

चंबा। भारी बारिश और बर्फबारी ने पांगी Pangi के लोगों को 1986 की याद ताजा कर दी है। 33 साल बाद पांगी Pangi में ऐसे हालात पैदा हुए हैं। आलम यह है कि पांगी में न बिजली है और न पानी है। सड़कें भी बंद पड़ी हैं। लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहे हैं। लोगों ने हवाई उड़ानों की उम्मीद छोड़कर सीएम जयराम ठाकुर से मुख्य मार्ग को खोलने की मांग की है। बता दें कि कडू नाला से संसारी नाला तक का मार्ग बंद पड़ा हुआ है। मनाली-श्रीनगर राष्ट्रीय राज मार्ग के न खुलने से पांगी का संपर्क प्रदेश से तो कटा हुआ है।

वहीं, समस्त पंचायतों का पांगी Pangi मुख्यालय से भी संपर्क कट गया है। कडू नाला से संसारी माला तक करीब 55 किलोमीटर के इस मार्ग से समस्त पांगी की 16 पंचायतों को जोड़ने वाली लिंक रोड जुड़ी हुई है। इसके अतिरिक्त पांगी से प्रदेश के अन्य भागों को जोड़ने वाला सर्दियों के लिए भी यही मार्ग है । छह तथा सात फरवरी को हिमपात snowfall होने से पांगी के तमाम पंचायतों को संपर्क मुख्यालय से कट गया है। तीन दिन मौसम साफ रहने के बाद भी सीमा सड़क संगठन के मार्ग को बहाल न करने से यातायात तो दूर पैदल चलना भी लोगों को मुश्किल हो गया है। लोगों का कहना है कि अब सीएम पांगी में सड़क सुविधा बहाल करने के आदेश दें। जुकारु में व्यस्त होने के कारण लोग साथ नहीं दे पा रहे हैं।

यह भी पढ़ें :- सुंदरनगर के इन गांव को 4 दिन बाद मिला उजाला, लोगों ने ली राहत की सांस

रास्ते बंद होने के कारण लाइन देख नहीं पा रहे बोर्ड कर्मचारी

बोर्ड के कर्मचारियों का कहना है कि रास्ते बंद होने के कारण लाइन देख नहीं पा रहे हैं। पानी की व्यवस्था के लिए तो लोगों का कहना है कि पूरे साल में यही हाल है। सरकारी अधिकारियों के कार्यालयों, आवासों तथा हॉस्पिटलों में पानी की किल्लत है तो वहीं आम आदमी की हालत कौन पूछे। दबी हुई जवान से तो कई अधिकारी कर्मचारी नेताओं की जुबान से यह चर्चा करते सुना जाता है कि 1986 के बाद पहली बार ऐसा लग रहा है कि पांगी में इस प्रकार की हालत है।

मौसम साफ होने पर रोड खोलने का होगा कामः बीआरओ

सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के अधिकारी आरपी सिंह अधिकारी ने कहा कि मौसम खराब होने के कारण काम करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कई स्थानों पर हिमखंड ग्लेशियरों का खतरा रहता है। साथ में भू स्खलन भी होता रहता है। इसलिए काम नहीं कर पाए हैं, जैसे मौसम साफ रहता रोड खोलने का काम शुरू किया जाएगा। सीमा सड़क संगठन के किलाड़ स्थित अधिकारी को बर्फ हटाने के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि उन को ओआईसी उदयपुर से आदेश हैं कि खराब मौसम में काम नहीं करना है।

उधर, इस संदर्भ में एसडीएम बी भारती ने कहा कि सोमवार से बर्फ हटाने का कार्य शुरू किया जाएगा। किलाड़ संसारी नाला और शौर से किलाड़ तक दोनों तरफ से युद्व सत्र पर कार्य करवाया जाएगा। सोमवार को किलाड़ भुंतर-चंबा के बीच हवाई उड़ानें करवाई जाएंगी।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है