Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

रिज पर 35 साल बाद गूंजी Christ Church की 150 साल पुरानी Bell की आवाज

रिज पर 35 साल बाद गूंजी Christ Church की 150 साल पुरानी Bell की आवाज

- Advertisement -

शिमला। क्रिसमस के मौके पर बुधवार को शिमला के ऐतिहासिक रिज पर क्राइस्ट चर्च (Christ Church) में लगी 150 साल पुरानी बेल की आवाज गूंजी है। 35 साल के बाद इस बेल की आवाज पर्यटकों और शिमला के लोगों को सुनाई दी। इस बेल (Bell) में कुल 6 पाइप छह सरगम सुरों के रूप में हैं जिन्हें हाथों से रस्सों के सहारे खींच कर बजाया जाता है। ब्रिटिश हुकूमत के समय तक क्राइस्ट चर्च में बजने वाली इस बेल को क्रिसमस, न्यू ईयर की रात 12 बजे और प्रार्थना सभा के शुरू होने से पहले बजाया जाता था।

यह भी पढ़ें: प्रीणी में अटल की याद में पूजा, जयराम बोले- टूरिज्म के एंगल से विकसित करेंगे अटल टनल


35 साल तक खराब पड़ी इस बेल को मिस्टर विक्टर डीन ने ठीक किया है। इन्होंने इस बेल के पार्ट्स को नए सिरे से बनाया व सारी खराब मशीनरी (Defective machinery) को बदलकर बजाने के क़ाबिल बनाया। इसके साथ ही इसमें पेंट कर रगड़ कर नए हैमर, वायर, रस्सा लगाया तब जाकर ये बेल आज बजने के क़ाबिल हुई। इस बेल के कुछ पुर्जे चंडीगढ़ से लाए गए हैं जबकि कुछ शिमला में ही तैयार किए गए। उस ज़माने में इस बेल की आवाज तारादेवी व छोटा शिमला तक सुनाई देती थी लेकिन आज इसकी मधुर ध्वनि रिज के आसपास की सुनाई दी। विक्टर डीन कहते हैं कि बचपन मे उन्होंने इस बेल को बजाया था वह इसके बारे में थोड़ा बहुत जानते थे इसलिए उन्होंने इस बेल को दुरुस्त किया है।

 

150 साल पुरानी इस बेल को इंग्लैंड (England) से यहां लाया गया था। जब इस बेल को यहां लाया गया तो उसके बाद 1982 तक लगातार इसकी आवाज से ऐतिहासिक चर्च ओर राजधानी शिमला गूंजती रही लेकिन उसके बाद इस बेल में तकनीकी ख़राबी आई उसको आज तक ठीक नहीं किया जा सका। अब जाकर शिमला के ही निवासी मिस्टर विक्टर डीन ने इसे ठीक किया और बजने के काबिल बनाया।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है