Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

बंगाल के बाद अम्फान प्रभावित ओडिशा का दौरा करने पहुंचे PM Modi; 1 हजार करोड़ पर भड़कीं ममता

बंगाल के बाद अम्फान प्रभावित ओडिशा का दौरा करने पहुंचे PM Modi; 1 हजार करोड़ पर भड़कीं ममता

- Advertisement -

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान अम्फान (Amfan) के कारण मची तबाही का आकलन करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज (22 मई) पश्चिम बंगाल और ओडिशा के दौरे पर हैं। इसी फेहरिस्त में पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के साथ चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे किया। पीएम ने बशीरहाट में राज्यपाल जगदीप धनखड़ व सीएम ममता संग बैठक के बाद राज्य को 1000 करोड़ रुपए की अग्रिम मदद और मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए मुआवज़ा देने का ऐलान किया।

ओडिशा पहुंचे पीएम मोदी का सीएम नवीन पटनायक ने किया स्वागत

वहीं पश्चिम बंगाल का दौरा करने के बाद पीएम मोदी ओडिशा (Odisha) पहुंचे, भुवनेश्वर एयरपोर्ट पर सीएम नवीन पटनायक (Naveen Patnaik) और राज्यपाल गणेशीलाल ने उनका स्वागत किया। पीएम अम्फान प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा करेंगे। पीएम (PM Modi) आज 83 दिनों के बाद नई दिल्ली से बाहर निकले हैं। हवाई सर्वे के बाद पीएम मोदी ने कहा कि जब देश में कोरोना वायरस का संकट है, तब पूर्वी क्षेत्र में तूफान ने प्रभावित किया। पीएम मोदी ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार दोनों ने इस तूफान को लेकर तैयारी की थी, लेकिन इसके बावजूद 80 लोगों की जान हम नहीं बचा पाए हैं। इस तूफान की वजह से काफी संपत्ति का नुकसान हुआ है, जिसमें घर उजड़े हैं और इन्फ्रास्ट्रक्चर को बड़ा नुकसान हुआ है।

यह भी पढ़ें: मानवता: वन अधिकारी ने प्यासे Cobra को अपने हाथों से पिलाया पानी

ममता बनर्जी बोलीं- नुकसान 1 लाख करोड़ का, मिले 1 हजार करोड़

पीएम मोदी के एक हजार करोड़ वाले ऐलान पर सीएम ममता बनर्जी बिफर पड़ी हैं। उनका कहना है कि नुकसान एक लाख करोड़ का हुआ और पैकेज सिर्फ एक हजार करोड़ का दिया जा रहा है। ममता बनर्जी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने एक हजार करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया है, लेकिन इससे जुड़ी कोई जानकारी नहीं दी है। यह पैसा कब मिलेगा या यह अग्रिम धनराशि है। अम्फान तूफान के कारण एक लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। 56 हजार करोड़ रुपया तो हमारा ही केंद्र पर बकाया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है