×

बेटे का शव देख मां ने भी त्यागे प्राण

बेटे का शव देख मां ने भी त्यागे प्राण

- Advertisement -

मंडी। कहते मां अपने बच्चों का दुख नहीं देख सकती, लेकिन जब आंखों के सामने बेटे का शव आ जाए तो उस मां का क्या होगा। ऐसा ही मंजर पेश आया है सरकाघाट के कंडयोल गांव में। मंगलवार देर रात को जैसे ही बेटे की लाश घर पहुंची तो बुजुर्ग मां ने भी गम में अपने प्राण त्याग दिए। दिल दहला देने वाले इस मामले में अब मां-बेटे की चिता एक साथ जलेगी।


  • सरकाघाट के कंडयोल गांव में दिल दहलाने वाली घटना
  • सड़क हादसे के घायल बलबीर ने पीजीआई में तोड़ा दम

बताया जा रहा है कि जैसे ही सड़क हादसे के घायल बलबीर सिंह की मौत की खबर गांव में पहुंची तो पूरा गांव शोक में डूब गया। लोग शव आने का इंतजार कर रहे थे कि बुधवार दोपहर बाद शव भी घर पहुंच गया, सभी लोग अंतिम संस्कार की रस्मों को पूरा करने लगे हुए थे, लेकिन इतने में बेटे की लाश के पास बैठी मां पूरी तरह से बेसुध हो गई। इससे पहले लोग कुछ पाते 81 साल की रामदीन ने भी अपने प्राण त्याग दिए। मां-बेटे की मौत के बाद परिजनों पर मानों दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। बहरहाल अब लोग दोनों शवों के अंतिम संस्कार की तैयारियां कर रहे हैं। गौर रहे कि तीन दिन पहले कंडयोल गांव में कार दुर्घटना के घायल बलबीर सिंह की चंडीगढ़ पीजीआई में मंगलवार को मौत हो गई।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है