×

Agricultural University पालमपुर सामुदायिक रेडियो स्टेशन करेगा शुरू, यहां होगा स्थापित

विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एच.के.चौधरी ने दी जानकारी

Agricultural University पालमपुर सामुदायिक रेडियो स्टेशन करेगा शुरू, यहां होगा स्थापित

- Advertisement -

शिमला। किसानों को कृषि संबंधी सूचना और नई तकनीक से जागरूक कराने के लिए कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर (Agricultural University Palampur) जल्द ही सामुदायिक रेडियो स्टेशन (Radio station) आरंभ करेगा। चौधरी सरवण कुमार कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एच.के.चौधरी ने बताया कि यह रेडियो स्टेशन जिला मंडी के सुंदरनगर में स्थापित किया जाएगा। डॉ. एचके चौधरी ने आज यहां राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय (Governor Bandaru Dattatreya) से राजभवन में भेंट की और उन्हें विश्वविद्यालय द्वारा की जा रही विभिन्न गतिविधियों और नवीन प्रयासों से अवगत करवाया।


यह भी पढ़ें: #HPSSC: जूनियर इंजीनियर इलेक्ट्रिकल और असिस्टेंट केमिस्ट की Answer Key जारी…

 

कुलपति ने राज्यपाल को बताया कि हाल ही में हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के पूर्ण राज्यत्व की स्वर्ण जयंती समारोह के दौरान विश्वविद्यालय ने राज्य के प्रगतिशील किसानों के बारे में एक पुस्तिका प्रकाशित की है, जिन्होंने प्रदेश, राष्ट्र और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कृषि क्षेत्र में बेहतर कार्य किए हैं। पुस्तिका (booklet) का नाम एग्रीकल्चर एम्बेस्डरस है। यह पुस्तिका अन्य किसानों को प्रशिक्षण (Training farmers) और कृषि क्षेत्र में नई तकनीकें अपनाने के लिए प्रेरित करेगी। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में पहली बार किसान गैलरी स्थापित की गई है और जल्द ही सूचना प्रद्यौगिकी विभाग के सहायोग से विश्वविद्यालय में ई-ऑफिस की स्थापना भी की जाएगी। इसके अतिरिक्त विश्वविद्यालय की एक नई वेबसाइट भी प्रस्तावित है।

उन्होंने कहा कि एक फरवरी से ऑनलाइन कक्षाएं (Online classes) आरंभ हो गई हैं और प्रवेश के इच्छुक सभी स्नातक और स्नातकोत्तर विद्यार्थियों के लिए 8 फरवरी से प्रवेश शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि लाहौल-स्पीति में स्नो ट्राउट संबंधी नई परियोजना पर कार्य चल रहा है, ताकि मछली का उत्पादन बढ़ाया जा सके। इसके अतिरिक्त पालमपुर में गद्दी भेड़ों के लिए एक प्रयोगशाला स्थापित की जा रही है। राज्यपाल ने कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि इस विश्वविद्यालय का कृषि क्षेत्र में अनुसंधान और विस्तार में महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने नई तकनीकों और कृषि क्षेत्र के उन्नयन पर बल देते हुए कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार भविष्य की रणनीति पर कार्य किया जाए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है