×

नाराजगीः PWD के Additional Chief Secretary की CM से Complaint

नाराजगीः PWD के Additional Chief Secretary की CM से Complaint

- Advertisement -

गफूर खान/धर्मशाला। PWD के अतिरिक्त मुख्य सचिव द्वारा सीएम के आदेशों को दरकिनार करते हुए, इंटक पदाधिकारियों के साथ कोई बैठक नहीं करने की शिकायत सीएम से की गई है।ऑल हिमाचल PWD-IPH कांट्रेक्टचुल वर्कर यूनियन संबंधित इंटक के प्रदेशाध्यक्ष सीता राम सैनी ने सीएम के कांगड़ा प्रवास के दौरान, सीएम को सौंपे मांगपत्र में उक्त अधिकारी के खिलाफ शिकायत की है।


  • इंटक पदाधिकारियों से एक बार भी नहीं की बैठक
  • अधिकारी के रवैये से लटकी कर्मचारियों की कई मांगें

इंटक का कहना है कि सीएम ने PWD और IPH के प्रधान सचिवों को कई बार निर्देश दिए कि वे यूनियन के साथ मीटिंग करें और कर्मचारियों की समस्याओं का निवारण करें। इन निर्देशों पर प्रधान सचिव IPH हिमाचल प्रदेश सरकार ने 17 मई 2016 को बावा हरदीप की अध्यक्षता में यूनियन पदाधिकारियों के साथ मीटिंग की थी। लेकिन लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव ने आज दिन तक इंटक के साथ कोई मीटिंग नहीं की है।

यहां तक कि उक्त अधिकारी इंटक को मानने से भी इंकार करते हैं। लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव ने तो एक बार यूनियन के शिष्टमंडल को यह भी कह दिया कि वह मदन राणा को जानते हैं और इंटक को आज तक उन्होंने कभी मीटिंग दी ही नहीं है। इंटक का कहना है कि जिस व्यक्ति की उक्त अधिकारी बात कर रहे हैं वह इंटक नहीं बल्कि भारतीय मजदूर संघ के अध्यक्ष हैं। इंटक प्रदेशाध्यक्ष सीता राम सैनी का कहना है कि लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के इस रवैये से जहां सीएम के निर्देशों की अवहेलना हो रही है, वहीं विभाग में कार्यरत कर्मचारियों की समस्याओं का निपटारा करने में भी मुश्किलें पेश आ रही हैं।

सैनी ने सीएम से आग्रह किया है कि अब इंटक सीएम की अध्यक्षता में ही बैठक करना चाहती है इसलिए इंटक को बैठक के लिए सीएम समय दें। इसके अलावा सीएम को सौंपे गए मांगपत्र में वाटर गार्डों को 8 साल का कार्यकाल पूरा करने के उपरांत दैनिक वेतन भोगी बनाने, IPH विभाग में डिप्लोमा धारक पंप ऑपरेटर, एलेक्ट्रिशियन और फिटरों को कनिष्ठ अभियंता के रूप में पदोन्नत करने, PWD में दसवीं पास बेलदारों को कार्य निरीक्षक के पद पर पदोन्नत करने, मजदूरों को न्यूनतम वेतन के रूप में दस हजार रुपए देने सहित विभिन्न अन्य मांगें भी रखी गई हैं और उन्हें जल्द मानने का सीएम से आग्रह किया गया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है