Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

देश के ट्रक ऑपरेटर जिला अधिकारियों को सौंपेंगे अपने ट्रकों की चाबियां!

सरकार को लिखेंगे पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम करने के लिए लैटर

देश के ट्रक ऑपरेटर जिला अधिकारियों को सौंपेंगे अपने ट्रकों की चाबियां!

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel Prices) की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। कई शहरों में को पेट्रोल (Petrol) की कीमत 95 रुपए प्रति लीटर तक भी जा पहुंची है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत (Crude Oil Price) भी बढ़ रही है। ऐसे में आशंका है कि पेट्रोल-डीजल की कीमत 100 का आंकड़ा भी पार कर सकती है। लगातार पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने से ट्रक मालिक (Truck Owner) भी नाराज हैं। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (All India Motor Transport Congress) ने सरकार को कहा है कि यदि पेट्रोल-डीजल की कीमतों को कंट्रोल नहीं किया गया तो वो ट्रकों की चाबियां जिला उपायुक्त को सौंप देंगे। पेट्रोल डीजल की कीमतों को कंट्रोल करने के लिए सरकार को 14 दिन का समय भी दिया जाएगा।


यह भी पढ़ें: मुनाफे के वो Business जो शुरू होंगे दस हजार रुपए में, नजर डालिए इस Video Story पर

इसके बाद भी सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम कंट्रोल करने में नाकाम रहती है तो 15 दिन बाद सभी ट्रक मालिक अपने वाहनों की चाबियां जिला उपायुक्तों को सौंपेंगे। बताया जा रहा है कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम करने के लिए करीब 3700 संगठन सरकार को पत्र लिखेंगे। इसके ट्रक ऑपरेटर्स के संगठनों ने सरकार से मांग की है कि उनका माल भाड़ा भी ऑटो-टैक्सी की तरह प्रति किलोमीटर की दर से तय हो। इसके साथ ही किराया तेल की कीमतों से लिंक किया जाना चाहिए। यदि तेल कीमतें बढ़ती हैं तो माल भाड़े में बढ़ोतरी की जानी जरूरी है। संगठनों का कहना है कि ट्रक मालिक और चालक भारी आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहे हैं।


इसके अलावा ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के प्रवक्ता राजेंद्र कपूर ने बताया कि संगठन की बैठक में अहम निर्णय लिया गया है। इस निर्णय के मुताबिक सभी संगठन पहले केंद्र सरकार को पत्र लिखेंगे। इसमें पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी पर काबू करने की अपील की जाएगी। सरकार 14 दिनों में दाम कम नहीं करती है तो वो चक्का जाम की बजाय कामबंदी करेंगे। इसके बाद एक दिन पर वो अपने ट्रकों की चाबियां क्षेत्र के जिलाधिकारी को सौंपेंगे और विरोध दर्ज करवाएंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है