Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

बिग ब्रेकिंग : युग हत्याकांड के तीनों दोषियों को मौत की सजा 

बिग ब्रेकिंग : युग हत्याकांड के तीनों दोषियों को मौत की सजा 

- Advertisement -

शिमला। चार साल के मासूम युग की हत्या के तीनों दोषियों को यहां की डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई है। हिमाचल में यह फांसी देने का चौथा मामला है। इससे पहले तीन केस में कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी, जिसे हाईकोर्ट ने रद्द कर दिया था।
डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज वीरेंद्र सिंह ने बुधवार को इस जघन्य हत्याकांड के तीनों दोषियों चंद्र शर्मा, विक्रांत, तेजेंद्र को फांसी की सजा सुनाई। इससे पहले कोर्ट ने 7 अगस्त को मामले के तीनों आरोपियों को दोषी पाया था। लेकिन सजा नहीं सुनाई गई थी। तीनों दोषियों को एक महीने के भीतर हाईकोर्ट में इस फैसले को चुनौती देने का अधिकार होगा।

आपको बता दें कि चार जून 2014 को शिमला के राम बाजार के कारोबारी विनोद कुमार के चार वर्षीय बेटे युग का अपहरण हो गया था। दोषियों ने युग के परिजनों से फिरौती की मांग की थी। पकड़े जाने के डर से उन्होंने युग की हत्या कर दी थी। अगस्त 2016 में सीआइडी ने युग हत्याकांड को सुलझाते हुए तीनों दोषियों को गिरफ्तार किया था।

15 माह तक चला था ट्रायल

युग हत्याकांड को लेकर जिला अदालत में लगभग 15 महीनों तक ट्रायल चला और इस दौरान 100 से अधिक गवाह पेश हुए। इस हत्याकांड ने पूरे शहर को झकझोर कर रख दिया था। संपन्न परिवारों से ताल्लुक रखने वाले तीन आरोपियों ने चार साल के मासूम बालक युग का अपहरण किया और फिर बर्बरता से उसकी हत्या कर दी। आरोपियों तेजेंद्र सिंह, चंद्र शर्मा और विक्रांत बक्शी ने युग को शहर में ही एक पेयजल टैंक में डाल दिया था। युग शिमला के राम बाजार के एक कारोबारी का बेटा था और तीनों अपराधी युग के परिजनों के जान-पहचान वाले थे। जून 2014 को आरोपियों ने युग का अपहरण कर परिजनों से फिरौती की मांग की थी। लेकिन, पकड़े जाने के डर से उन्होंने युग को मौत के घाट उतार दिया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है